Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Jul 2016 · 1 min read

भीनी प्रेम फुहार

ले-लेकर घन दौड़ती, यहाँ-वहाँ दिन रात |
वही हवा बरसात की, लाती शुभ सौगात ||

आये वारिद झूम के, भिन्न-भिन्न आकार |
ढांक रहे हैं व्योम को , अपने पंख पसार ||

ओ मतवाले मेघ सुन, मतकर सोच विचार |
शुष्क ह्रदय पर डाल दे , भीनी प्रेम फुहार ||

रूठे घन बरसा सुधा , जी जाएं सब खेत |
वसुधा का आँचल खिले, सिमटे बालू रेत ||

चाहे मत बरसों यहाँ, मगर न जाना भूल |
मुरझाएंगे मेघ सब , नीर बिना यह फूल ||

विरहन को तरसा रहा, तपा रहा क्यों देह |
ओ अलबेले मेघ जा,…और कहीं दे मेह ||

फिर बादल नजदीक है, फिर जागा है चाव |
बना रहा है लो पुनः, मन कागज़ की नाव ||

~ अशोक कुमार रक्ताले.

Language: Hindi
Tag: दोहा
1 Like · 10 Comments · 278 Views
You may also like:
✍️आँखरी रूह में हो आप✍️
'अशांत' शेखर
प्रिये
Kamal Deependra Singh
अध्यापक दिवस
Satpallm1978 Chauhan
मैथिली के प्रथम मुस्लिम कवि फजलुर रहमान हाशमी (शख्सियत) -...
श्रीहर्ष आचार्य
*दूरंदेशी*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
रुतबा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मेरा संघर्ष
Anamika Singh
*और फिर बहुऍं घरों के कामकाज निभाऍंगी (हिंदी गजल/ गीतिका)*
Ravi Prakash
Writing Challenge- मूल्य (Value)
Sahityapedia
“ पागल -प्रेमी ”
DrLakshman Jha Parimal
कोयल मतवाली
Kaur Surinder
ये मुनासिब नहीं
Dr fauzia Naseem shad
'सनातन ज्ञान'
Godambari Negi
💐💐सेवा अर्थात् विलक्षणं सुखं💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बहुमत
मनोज कर्ण
मोहन
मोहन
बौद्ध राजा रावण
Shekhar Chandra Mitra
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बहुत हैं फायदे तुमको बतायेंगे मुहब्बत से।
सत्य कुमार प्रेमी
कुछ अल्फाज़ खरे ना उतरते हैं।
Taj Mohammad
लश्क़र देखो
Dr. Sunita Singh
आकर्षण
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मित्र दिवस पर आपको, प्यार भरा प्रणाम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
■ सतर्क_रहें_सुरक्षित_रहेंगे
*Author प्रणय प्रभात*
पायल बोले छनन छनन - देवी गीत
Ashish Kumar
दिलों की बात करता है जमाना पर मोहब्बत आज भी...
Vivek Pandey
मेरे प्यारे देशप्रेमियों
gurudeenverma198
अब फक़त तेरा सहारा, न सहारा कोई।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
पिता के चरणों को नमन ।
Buddha Prakash
पिता का सपना
Prabhudayal Raniwal
Loading...