Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 25, 2021 · 1 min read

भाई

भाई हो तो भरत सा, सब कुछ कर दे त्याग
दुर्योधन की तरह जो, नहीं अलापे राग
2
भाई चारा सीखना, राम भरत को जान
भाई के खातिर करे, अपने सुख का दान
राकेश पाठक सतना m. P.

2 Likes · 218 Views
You may also like:
किस क़दर।
Taj Mohammad
✍️✍️याद✍️✍️
"अशांत" शेखर
💐खामोश जुबां 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तमाम उम्र।
Taj Mohammad
✍️दो और दो पाँच✍️
"अशांत" शेखर
मौत
Alok Saxena
*!* सोच नहीं कमजोर है तू *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
पिता
pradeep nagarwal
आध्यात्मिक गंगा स्नान
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️ओर भी कुछ है जिंदगी✍️
"अशांत" शेखर
सुना है।
Taj Mohammad
✍️अहज़ान✍️
"अशांत" शेखर
माँ की परिभाषा मैं दूँ कैसे?
Jyoti Khari
अपना कंधा अपना सर
विजय कुमार अग्रवाल
कालजयी साहित्यकार जयशंकर प्रसाद जी (133 वां जन्मदिन)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*"याचना"*
Shashi kala vyas
*शंकर तुम्हें प्रणाम है (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
सारी फिज़ाएं छुप सी गई हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
अपनों से न गै़रों से कोई भी गिला रखना
Shivkumar Bilagrami
कहाँ तुम पौन हो
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
पत्नि जो कहे,वह सब जायज़ है
Ram Krishan Rastogi
मेरे दिल को
Shivkumar Bilagrami
" सूरजमल "
Dr Meenu Poonia
गुरु-पूर्णिमा पर...!!
Kanchan Khanna
नव भारत
पाण्डेय चिदानन्द
मां क्यों निष्ठुर?
Saraswati Bajpai
*आचार्य बृहस्पति और उनका काव्य*
Ravi Prakash
धारण कर सत् कोयल के गुण
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Loading...