Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Aug 2022 · 1 min read

भक्तिरेव गरीयसी

भक्ति: सर्वश्रेष्ठ:-‘भक्तिरेव गरीयसी’।प्रेमस्य नाम भक्ति:-पन्नगारि सुनु प्रेम सम भजन न दूसर आन”।प्रेम:-ईश्वर: च तस्य गुणानि च लीला च चरित्रं च आदयः रोचिष्यन्ते।यथा पिपासा समये जलस्य स्मरणं भवति च जलं रोचते।एतादृशः भगवान् रोचिष्यते।भक्तया भगवान् वशीभूत: भवन्ति।मुक्ति: तु पूतनां अपि प्राप्त: अभवत्।मुक्ति: तु भगवतः चरण-रजे।भक्ति: बहु सुगमम्।ईश्वरं प्रति सतत प्रेम वर्तते एषः भक्ति:।

©®अभिषेक:पाराशर

Language: Sanskrit
1 Like · 71 Views
You may also like:
I love to vanish like that shooting star.
Manisha Manjari
रक्षा बंधन
विजय कुमार अग्रवाल
तुम्हें डर कैसा .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
तमन्ना ए कल्ब।
Taj Mohammad
हर घर तिरंगा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
"DIDN'T LEARN ANYTHING IF WE DON'T PRACTICE IT "
DrLakshman Jha Parimal
मेरी गुड़िया (संस्मरण)
Kanchan Khanna
Inspiration - a poem
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
वक़्त और हमारा वर्तमान
मनोज कर्ण
✍️फ़रिश्ता रहा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
🚩माँ, हर बचपन का भगवान
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बादल जब गरजे,साजन की याद आई होगी
Ram Krishan Rastogi
अनसुनी~प्रेम कहानी
bhandari lokesh
हिंदी का गुणगान
जगदीश लववंशी
शेर
Rajiv Vishal
हमारे राजनेता
Shekhar Chandra Mitra
अपनों से न गै़रों से कोई भी गिला रखना
Shivkumar Bilagrami
बना लो कविता को सखी
Anamika Singh
हमारी ग़ज़लों ने न जाने कितनी मेहफ़िले सजाई,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
खुशी बेहिसाब
shabina. Naaz
ज़िन्दगी का रंग उतरे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सच ये है कि
मानक लाल"मनु"
सिर्फ तेरा
Seema 'Tu hai na'
मंगलवत्थू छंद (रोली छंद ) और विधाएँ
Subhash Singhai
दुर्योधन कब मिट पाया :भाग:41
AJAY AMITABH SUMAN
*हटरी (बाल कविता)*
Ravi Prakash
माँ
आकाश महेशपुरी
जीने की कला
Shyam Sundar Subramanian
🌷🍀प्रेम की राह पर-49🍀🌷
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...