Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 7, 2016 · 1 min read

बेटी

******************************************
विधा—–गीतिका
छंद——पदपादाकुलक छंद
मात्रा भार—16
समान्त—–आना
पदान्त——है
÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷
शीर्षक—-बेटी
~~~~||||~~~~

बेटी का मान ————बढ़ाना है।
इनके अधिकार ——-दिलाना है।

उपहार खुदा————का है बेटी,
सब हुनर जिसे——सिखलाना है।

हो भेद न —– लड़के लड़की में
अब यह अन्याय——-मिटाना है।

गर्भस्थ पुत्री जो है———-उसको,
जीवन संसार ———दिखाना है।

पोषण कर बेटी का ——-इनको
आयाम नये दिलवाना ——– है।

ममता को जन्म दिया —–तनया
धरती मे इसे ———–बसाना है।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
नीरज पुरोहित रूद्रप्रयाग(उत्तराखण्ड)

243 Views
You may also like:
खुदा बना दे।
Taj Mohammad
The Journey of this heartbeat.
Manisha Manjari
मुरादाबाद स्मारिका* *:* *30 व 31 दिसंबर 1988 को उत्तर...
Ravi Prakash
✍️अग्निपथ...अग्निपथ...✍️
"अशांत" शेखर
दरों दीवार पर।
Taj Mohammad
In my Life.
Taj Mohammad
प्रेम की किताब
DESH RAJ
कायनात से दिल्लगी कर लो।
Taj Mohammad
रावण का मकसद, मेरी कल्पना
Anamika Singh
ज़िंदगी पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
यह कैसा प्यार है
Anamika Singh
डॉ. भीमराव रामजी अम्बेडकर
N.ksahu0007@writer
* तुम्हारा ऐहसास *
Dr. Alpa H. Amin
डरिये, मगर किनसे....?
मनोज कर्ण
💐 हे तात नमन है तुमको 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
✍️लोग जमसे गये है।✍️
"अशांत" शेखर
बहन का जन्मदिन
Khushboo Khatoon
💐प्रेम की राह पर-30💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
श्री राम
नवीन जोशी 'नवल'
दिल पूछता है हर तरफ ये खामोशी क्यों है
VINOD KUMAR CHAUHAN
नहीं चाहता
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ज़ुबान से फिर गया नज़र के सामने
कुमार अविनाश केसर
🙏मॉं कालरात्रि🙏
पंकज कुमार "कर्ण"
*चली ससुराल जाती हैं (गीतिका)*
Ravi Prakash
जीतने की उम्मीद
AMRESH KUMAR VERMA
स्पर्धा भरी हयात
AMRESH KUMAR VERMA
✍️प्रेम खेळ नाही बाहुल्यांचा✍️
"अशांत" शेखर
✍️बुलडोझर✍️
"अशांत" शेखर
मै पैसा हूं दोस्तो मेरे रूप बने है अनेक
Ram Krishan Rastogi
Loading...