Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

बेटियाँ

बेटियाँ,बेटियाँ हैं
जो हैं सूत्रधार
सृजन की,ममत्व की-
और वैश्विक सौन्दर्य की ।
संभव नहीं
इनके बिना-
सृष्टि का अस्तित्व
और यहाँ तक-
‘परिवार’की पूर्णता।
कितना अधूरा लगता है,
बेटियों के बिना
एक पिता का व्यक्तित्व,
‘माँ’ का अधूरापन।
बेटियाँ
प्रकृति की अद्भुत सृजन हैं
जो बनाती हैं
एक परिवार, एक गांव और एक शहर भी
और फिर एक देश
और अंततः एक अद्भुत संसार।
वह माँ हैं, बहन हैं,प्रेयसी
और अर्धांगिनी भी,
वह नवदुर्गा हैं
और सहनशीलता के शीर्ष पर
प्रतिष्ठित
राम की सीता भी ।

3 Likes · 2 Comments · 722 Views
You may also like:
बेचारी ये जनता
शेख़ जाफ़र खान
मजदूर
Anamika Singh
बेजुबान
Anamika Singh
हर ख़्वाब झूठा है।
Taj Mohammad
जब चलती पुरवइया बयार
श्री रमण
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बेसहारा हुए हैं।
Taj Mohammad
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
विन मानवीय मूल्यों के जीवन का क्या अर्थ है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️इश्तिराक✍️
"अशांत" शेखर
समुंदर बेच देता है
आकाश महेशपुरी
मिसाल (कविता)
Kanchan Khanna
माँ तुम सबसे खूबसूरत हो
Anamika Singh
✍️"बारिश भी अक्सर भुख छीन लेती है"✍️
"अशांत" शेखर
मैं आखिरी सफर पे हूँ
VINOD KUMAR CHAUHAN
ભીની ભીની લાગણી.....
Dr. Alpa H. Amin
वर्षा
Vijaykumar Gundal
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग१]
Anamika Singh
बेटी का पत्र माँ के नाम (भाग २)
Anamika Singh
मुक्तक- उनकी बदौलत ही...
आकाश महेशपुरी
पिता घर की पहचान
vivek.31priyanka
✍️✍️तो सूर्य✍️✍️
"अशांत" शेखर
जीवन दायिनी मां गंगा।
Taj Mohammad
सबको दुनियां और मंजिल से मिलाता है पिता।
सत्य कुमार प्रेमी
जग का राजा सूर्य
Buddha Prakash
वसंत का संदेश
Anamika Singh
दो दिलों का मेल है ये
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
एक शहीद की महबूबा
ओनिका सेतिया 'अनु '
Forest Queen 'The Waterfall'
Buddha Prakash
Loading...