Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Aug 2022 · 2 min read

बिटिया होती है कोहिनूर

बिटिया होती है कोहिनूर।
जिस घर मे आती है बेटिया
भर जाती है वहाँ नूर।
बिटिया होती है,
ईश्वर का सबसे सुरीली सुर।
बिटिया होती है कोहिनूर।

बेटिया नही होती है
परिवार के लिए
मजबूरी का कोई रूप,
उसे सम्मान देखकर देखो,
अपने परिवार के लिए
वह बन जाती है,
कभी छाँव तो कभी धूप।
बेटिया होती है कोहिनूर।

अपने शुभ कदमों से बिटिया
घर मे सुख-समृद्धि लाती है।
जहाँ-जहाँ वह जाती है
वहाँ रोनक ले आती है।
इसीलिए तो मानी जाती है
वह लक्ष्मी जी का रूप ।
बिटिया होती है कोहिनूर

माँ-पत्नी, बहन-बेटी के रूप मे
वह कितने ही घरों को सजाती है।
गंगा की तरह बेटी भी
हर रिश्तो की बोझ उठाती है।
बिना कोई गिला-शिकवा किये
वह अपना फर्ज निभाती है।
इसीलिए तो मानी जाती है
वह गंगा का रूप।
बेटियां होती है कोहिनूर।

घर के एक-एक सदस्य पर
बिटिया अपना प्यार लुटाती है।
अपने मधुर स्वभाव से वह
सबको अपना बनाती है।
इसीलिए तो दोनो घरों का
मान वह कहलाती है।
इसीलिए तो मानी जाती है
ऐश्वर्य की देवी के रूप।
बिटिया होती है कोहिनूर।

अपने उत्तम संस्कारों से,
घर मे सुख-शांति लाती है।
इसके लिए वह सदा
शांत स्वभाव अपनाती है।
इसीलिए तो कही जाती है
माँ सरस्वती जी का रूप ।
बिटिया होती है कोहिनूर।

जिस घर में आती है बिटिया
वह घर हो जाता स्वर्ग का रूप।
बिटिया होती है खुशियों का
विराट स्वरूप।
इसीलिए तो मानी जाती है
वह दुर्गा माँ का रूप।
बिटिया होती है कोहिनूर।

अपने चंचल स्वभाव से वह
सबके दिल मे जगह बनाती है।
अपने ज्ञान से वह
अपना परचम लहराती है।
अपने नाम के साथ-साथ
माँ-पिता का यश फैलाती है।
इसीलिए बिटिया कहलाती है
यश की देवी का रूप।
बिटिया होती है कोहिनूर।

बिटिया तो होती है कस्तूरी का रूप
घर-आँगन को खुशबू से भर देती है
उसका हर एक रूप ।
अपने कर्मो से वह देती है
घर को स्वर्ग का रूप
इसीलिए तो मानी जाती है
वह सब देवियों का विराट स्वरूप।
बिटिया होती है कोहिनूर।
अनामिका।

Language: Hindi
Tag: कविता
7 Likes · 8 Comments · 313 Views
You may also like:
दीप आवाहन दोहा एकादश
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
BADA LADKA
Prasanjeetsharma065
ख़्वाहिश है तेरी
VINOD KUMAR CHAUHAN
“सुन रहे हैं ना मोदी जी! इमरान अफगानियों को भी...
DrLakshman Jha Parimal
एक वह है और एक आप है
gurudeenverma198
बुलंदी
shabina. Naaz
एक मुर्गी की दर्द भरी दास्तां
ओनिका सेतिया 'अनु '
जिंदगी एक बार
Vikas Sharma'Shivaaya'
अकेले-अकेले
Rashmi Sanjay
एक मुठी सरसो पीट पीट बरसो
आकाश महेशपुरी
साथ आया हो जो एक फरिश्ता बनकर
कवि दीपक बवेजा
आस्तित्व नही बदलता है!
Anamika Singh
बे-पर्दे का हुस्न।
Taj Mohammad
शेर
Rajiv Vishal
लैला-मजनूं
Shekhar Chandra Mitra
🙋बाबुल के आंगन की चिड़िया🙋
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
सरस्वती वंदना
Shailendra Aseem
सुख और दुःख
Saraswati Bajpai
गणेश है हम सबके प्यारे
Kavita Chouhan
Love song
श्याम सिंह बिष्ट
लड़कियों का घर
Surabhi bharati
खुशियाँ ही अपनी हैं
विजय कुमार अग्रवाल
✍️✍️ओढ✍️✍️
'अशांत' शेखर
ये पूजा ये गायन क्या है?
AJAY AMITABH SUMAN
लाल टोपी
मनोज कर्ण
बढ़ते जाना है
surenderpal vaidya
"अष्टांग योग"
पंकज कुमार कर्ण
मैं रात-दिन
Dr fauzia Naseem shad
धार छंद
Pakhi Jain
रमेश कुमार जैन ,उनकी पत्रिका रजत और विशाल आयोजन
Ravi Prakash
Loading...