Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-438💐

बहुत वक़्त लगता है उनका पयाम समझने में,
मेरे हालात ही ऐसे हैं उनके हालात समझने में,
ये सब सिमट रहा है तूफ़ाँ बनके निकलेगा सुनो,
कब तक ठहरें,वो और हम समझने में समझने में।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
68 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Desires are not made to be forgotten,
Desires are not made to be forgotten,
Sakshi Tripathi
💐अज्ञात के प्रति-56💐
💐अज्ञात के प्रति-56💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दुनिया के मेले
दुनिया के मेले
Shekhar Chandra Mitra
लम्हों की तितलियाँ
लम्हों की तितलियाँ
Karishma Shah
यादें 🥀🌔
यादें 🥀🌔
Skanda Joshi
जो समाज की बनाई व्यस्था पे जितना खरा उतरता है वो उतना ही सम्
जो समाज की बनाई व्यस्था पे जितना खरा उतरता है वो उतना ही सम्
Utkarsh Dubey “Kokil”
जो गिर गिर कर उठ जाते है, जो मुश्किल से न घबराते है,
जो गिर गिर कर उठ जाते है, जो मुश्किल से न घबराते है,
अनूप अम्बर
महंगाई
महंगाई
Surinder blackpen
*मंथरा (कुंडलिया)*
*मंथरा (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
चल सजना प्रेम की नगरी
चल सजना प्रेम की नगरी
Sunita jauhari
ज़िन्दगी
ज़िन्दगी
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
माशूका नहीं बना सकते, तो कम से कम कोठे पर तो मत बिठाओ
माशूका नहीं बना सकते, तो कम से कम कोठे पर तो मत बिठाओ
Anand Kumar
रहो नहीं ऐसे दूर तुम
रहो नहीं ऐसे दूर तुम
gurudeenverma198
प्रतिध्वनि
प्रतिध्वनि
Er Sanjay Shrivastava
माँ का निश्छल प्यार
माँ का निश्छल प्यार
Soni Gupta
सनम
सनम
Satish Srijan
■ लीक से हट कर.....
■ लीक से हट कर.....
*Author प्रणय प्रभात*
बरसात की झड़ी ।
बरसात की झड़ी ।
Buddha Prakash
कोरा संदेश
कोरा संदेश
Manisha Manjari
हौसले हो अगर बुलंद तो मुट्ठि में हर मुकाम हैं,
हौसले हो अगर बुलंद तो मुट्ठि में हर मुकाम हैं,
Jay Dewangan
" खामोश आंसू "
Aarti sirsat
दर्द
दर्द
अभिषेक पाण्डेय ‘अभि ’
पिया-मिलन
पिया-मिलन
Kanchan Khanna
हम केतबो ठुमकि -ठुमकि नाचि लिय
हम केतबो ठुमकि -ठुमकि नाचि लिय
DrLakshman Jha Parimal
बादलों के घर
बादलों के घर
Ranjana Verma
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दर्द पर लिखे अशआर
दर्द पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
माँ
माँ
लक्ष्मी सिंह
श्री श्रीचैतन्य महाप्रभु
श्री श्रीचैतन्य महाप्रभु
Pravesh Shinde
मोहन ने मीरा की रंग दी चुनरिया
मोहन ने मीरा की रंग दी चुनरिया
अनुराग दीक्षित
Loading...