Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

बसंतोत्सव

???????????????
?❤️?
सभी देशवासियों को वसंतोत्सव की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं।
देखें मां शारदे के चरणों में समर्पित पंक्तियां
*********************************
आया मनभावन वसंत।
सहज खिला है दिग-दिगंत।।
सकल धरा के कण-कण में,
बसते हम सबके भगवंत ‌।।

पतझर पेड़ों पर हरियाली।
झूम रही है डाली डाली।।
अमुआ डारी बौर महकता,
मधुरिम गाती कोयल काली।‌

?अटल मुरादाबादी ?

1 Like · 224 Views
You may also like:
दर्द।
Taj Mohammad
**जीवन में भर जाती सुवास**
Dr.Alpa Amin
✍️मेरा मकान भी मुरस्सा होता✍️
"अशांत" शेखर
संसर्ग मुझमें
Varun Singh Gautam
मन
शेख़ जाफ़र खान
फूल और कली के बीच का संवाद (हास्य व्यंग्य)
Anamika Singh
अपनी कहानी
Dr.Priya Soni Khare
छोड़कर ना जाना कभी।
Taj Mohammad
"एक नज़्म लिख रहा हूँ"
Lohit Tamta
*योग-ज्ञान भारत की पूॅंजी (गीत)*
Ravi Prakash
जाति- पाति, भेद- भाव
AMRESH KUMAR VERMA
पत्नी जब चैतन्य,तभी है मृदुल वसंत।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
“फेसबूक के सेलेब्रिटी”
DrLakshman Jha Parimal
कुछ हंसी पल खुशी के।
Taj Mohammad
अपना लो मुझे अभी...
Dr.Alpa Amin
चलो जिन्दगी को फिर से।
Taj Mohammad
आज का विकास या भविष्य की चिंता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
खराब अपना दिमाग तुम,ऐसे ना किया करो
gurudeenverma198
जाको राखे साईयाँ मार सके न कोय
Anamika Singh
राज का अंश रोमी
Dr Meenu Poonia
नैय्या की पतवार
DESH RAJ
वादी ए भोपाल हूं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वर्तमान से वक्त बचा लो तुम निज के निर्माण में...
AJAY AMITABH SUMAN
भूख सी बेबसी नहीं देखी
Dr fauzia Naseem shad
दिल को तेरी तमन्ना
Dr fauzia Naseem shad
मौत ने की हमसे साज़िश।
Taj Mohammad
में हूं हिन्दुस्तान
Irshad Aatif
बनकर जनाजा।
Taj Mohammad
तू सर्दियों की गुनगुनी धूप सा है।
Taj Mohammad
संस्कार जगाएँ
Anamika Singh
Loading...