Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 8, 2021 · 1 min read

बरसात

मृदा मुदित हो तृप्ति
से गीत गा चली है।
वसुधा की सरसों-चादर
सरकी-गिरी मिली है।

सज्जित वसुंधरा भी
मिलती धुली-धुली है।
नयनों से मेघ उलझे
बरसात आ मिली है।।

पूजे गये हैं बरगद,
भावुक बड़ी घड़ी है।
अमुवा की डालियाँ भी,
गुनगुन करे लगी हैं।

लाडो बनी कली है
शाखों पर आ खिली है।
नयनों से मेघ उलझे
बरसात आ मिली है।।

पयोधि ने विहँस के,
अंबर को कुछ रिझाया।
बदला धरा का ऐसा
प्रतिबिंब हर्ष लाया।

मलय ने तान छेड़ी,
बौछार गा पड़ी है।
नयनों से मेघ उलझे
बरसात आ मिली है।।

चर्चे अँदरसे के हैं,
महकी गली-गली है।
प्रियतम के लाल रंग से,
रचती हथेली भी है।

पाहुन की याद करती,
बूँदों की एक लड़ी है।
नयनों से मेघ उलझे
बरसात आ मिली है।।

स्वरचित
रश्मि लहर
लखनऊ

5 Likes · 9 Comments · 283 Views
You may also like:
आज़ादी का परचम
Rekha Drolia
पैसों से नेकियाँ बनाता है।
Taj Mohammad
“ स्वप्न मे भेंट भेलीह “ मिथिला माय “
DrLakshman Jha Parimal
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:38
AJAY AMITABH SUMAN
बारिश
AMRESH KUMAR VERMA
✍️एक घना दश्त है✍️
'अशांत' शेखर
कौन था वो ?...
मनोज कर्ण
मुबारक हो।
Taj Mohammad
मृगतृष्णा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कविता को बख्श दो कारोबार मत बनाओ।
सत्य कुमार प्रेमी
ज़िंदगी का सवाल होते हैं ।
Dr fauzia Naseem shad
✍️जिंदगी की सुबह✍️
'अशांत' शेखर
मांँ की लालटेन
श्री रमण 'श्रीपद्'
गर्दिशों की जिन्दगी है।
Taj Mohammad
सबूत
Dr.Priya Soni Khare
"समय का पहिया"
Ajit Kumar "Karn"
योग है अनमोल साधना
Anamika Singh
शम्मा ए इश्क़।
Taj Mohammad
'पिता' हैं 'परमेश्वरा........
Alpa
✍️✍️पराये दर्द✍️✍️
'अशांत' शेखर
रफ़्तार के लिए (ghazal by Vinit Singh Shayar)
Vinit kumar
जय जय तिरंगा
gurudeenverma198
चूँ-चूँ चूँ-चूँ आयी चिड़िया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"लाइलाज दर्द"
DESH RAJ
✍️मैं और वो..(??)✍️
'अशांत' शेखर
अगर तुम खुश हो।
Taj Mohammad
"हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया" के "अंगद" यानि सिद्धार्थ नहीं रहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
'धरती माँ'
Godambari Negi
पर्यावरण
Vijaykumar Gundal
समय के संग परिवर्तन
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...