Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

बरसात

बरसात का यह माह सुगन्धित,
ऋतुओं में है सबसे अद्भुत
घनघोर घटाओं से सुसज्जित बादल,
धरा ने है पहने मोती के पायल
बारिस की पहली बूँद गिरी तो
हो गया तन-मन मेरा हर्षित।

मधुर फलों को रसास्वादन और
मनमोहक पकवानों का आस्वादन
पाकर बारिस का मीठा पानी,
जीव, जन्तु और जड़ हैं; पनपे
महकी हवाएं व बहकी फ़िजाएँ,
पाकर हुए खग-मृग गन्धर्वित।

खेतों में छाई हरियाली,
रंग-बिरंगी चमक रही है डाली
झमाझम बारिस हुई, गजब
झील-सरोवर हैं, भरे लबालब
मनोहर घटाओं में है निखरे,
देख इंद्रधनुष को हुए आकर्षित।

–सुनील कुमार

1 Like · 175 Views
You may also like:
हर ख़्वाब झूठा है।
Taj Mohammad
अल्फाज़ ए ताज भाग-1
Taj Mohammad
गर जा रहे तो जाकर इक बार देख लेना।
सत्य कुमार प्रेमी
मैं डरती हूं।
Dr.sima
मिठाई मेहमानों को मुबारक।
Buddha Prakash
#हे__प्रेम
Varun Singh Gautam
इन्द्रवज्रा छंद (शिवेंद्रवज्रा स्तुति)
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
आओ हम याद करे
Anamika Singh
दोहे एकादश ...
डॉ.सीमा अग्रवाल
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:37
AJAY AMITABH SUMAN
तपों की बारिश (समसामयिक नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
और न साजन तड़पाओ अब तुम
Ram Krishan Rastogi
काँटों में खिलो फूल-सम, औ दिव्य ओज लो।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
डगर कठिन हो बेशक मैं तो कदम कदम मुस्काता हूं
VINOD KUMAR CHAUHAN
करके शठ शठता चले
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
खुशियां तो होंगी वहां पर।
Taj Mohammad
कोई मरता नही है
Anamika Singh
"हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया" के "अंगद" यानि सिद्धार्थ नहीं रहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पिता
Mamta Rani
प्रकृति की नज़ाकत
Dr.Alpa Amin
*जो हुकुम सरकार (गीतिका)*
Ravi Prakash
बाबा अब जल्दी से तुम लेने आओ !
Taj Mohammad
✍️कोई मसिहाँ चाहिए..✍️
'अशांत' शेखर
भोजपुरी के संवैधानिक दर्जा बदे सरकार से अपील
आकाश महेशपुरी
✍️सुर गातो...!✍️
'अशांत' शेखर
समुंदर बेच देता है
आकाश महेशपुरी
अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" सहज कविता "
DrLakshman Jha Parimal
उम्मीद का दामन।
Taj Mohammad
आप कौन है
Sandeep Albela
Loading...