Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Mar 7, 2019 · 1 min read

बच्चे ही अच्छे हैं

हम कितने भी शरारत कर ले, पर दिल के बहुत सच्चे हैं ।
इस दुनिया की समझ में , थोड़े अभी हम कच्चे हैं ।।
दीदी, अपने भाइयों पर अपना प्यार, ऐसे ही बनाए रखना ।
क्योंकि , हम कितने भी बड़े हो जाएं ,
आपके सामने तो हम बच्चे ही अच्छे हैं ।।

-दिवाकर महतो
बुण्डू, राँची, झारखण्ड

5 Likes · 375 Views
You may also like:
मन की बात
Rashmi Sanjay
चित्कार
Dr Meenu Poonia
तुम्हारे शहर में कुछ दिन ठहर के देखूंगा।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
विश्वासघात
Seema 'Tu haina'
ईमानदारी
AMRESH KUMAR VERMA
एक फूल खिलता है।
Taj Mohammad
भारतीय लोकतंत्र की मुर्मू, एक जीवंत कहानी हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तपिश।
Taj Mohammad
✍️चाबी का एक खिलौना✍️
'अशांत' शेखर
महाकवि दुष्यंत जी की पत्नी राजेश्वरी देवी जी का निधन
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बताओ तो जाने
Ram Krishan Rastogi
हम भी इसका
Dr fauzia Naseem shad
महाराणा प्रताप
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
*मरने का हर मन में डर है (गीतिका)*
Ravi Prakash
दर्द सबका भी सब
Dr fauzia Naseem shad
ये हरियाली
Taran Singh Verma
क्या कुछ नहीं है मेरे पास
gurudeenverma198
भारतीय सभ्यता की दुर्लब प्राचीन विशेषताएं ।
Mani Kumar Kachi
डूबती कश्ती को साहिल दे।
Taj Mohammad
✍️लौटा हि दूँगा...✍️
'अशांत' शेखर
* साम वेदना *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पाकीज़ा इश्क़
VINOD KUMAR CHAUHAN
ईद मना रही है।
Taj Mohammad
फासले
Seema 'Tu haina'
आजादी अभी नहीं पूरी / (समकालीन गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
तिरंगा मेरी जान
AMRESH KUMAR VERMA
मेरी कलम से किस किस की लिखूँ मैं कुर्बानी।
PRATIK JANGID
गर्दिशे दौरा को गुजर जाने दे
shabina. Naaz
विश्वास
Harshvardhan "आवारा"
एक संकल्प
Aditya Prakash
Loading...