बचपन……………

बचपन

वो बचपन याद आता है
तितलियो के पीछे भागना
पकड़कर डब्बे में बंद करना
और उन संग खेलना फिर
खुले आसमा में छोड़ देना
वो बचपन याद आता है …….!!

आसमां को छूती पतंग
अचानक उस का कटना
दोस्तों संग उस पर टूटना
पाने की जद्दोजहद में
आपस में लड़ना-झगड़ना,
एक एक टुकड़ा हाथ में लिए
सबका एक साथ हँसना
वो बचपन याद आता है …….!!

वानर टोली बनाकर खेलना
रेल के डिब्बे जोड़कर चलना
दबे पैर घर से निकलकर
दुपहरी में क्रिकेट खेलना
शाम को घर-आँगन में घूमना
फागुन की चांदनी रात में
जुगनुओं का पीछा करना
वो बचपन याद आता है …….!!

वो बारिश में नहाते ओले चुनना
कागज की कश्ती पानी में ठेलना
दोस्तों संग गुल्ली डंडे का खेल
फिर बागो से कच्चे आम तोडना
माली का डंडा लेकर पीछा करना
हाथ न आकर उसको चिढ़ाना
वो बचपन याद आता है …….!!

खुले आसमान में सुबह की सैर
जुते खेतो में कब्बड्डी खेलना
ज्येष्ठ की तपती गर्मी में
नदी में ऊंचाई से कूदना
उलटे पैरो से उसमे तैरना
वो बचपन याद आता है …….!!

बिना किसी कारण के रूठना
आंसुओं से रोने का नाटक
भैया की फटकार का डर
दीदी का प्यार से सहलाना
झट से खिलखिलाकर हसना
वो बचपन याद आता है …….!!

आसमां को छूने की ताकत
हवा से तेज़ रफ़्तार
तूफानों से टकराने की इच्छा
वक़्त से आगे दौड़ने की तमन्ना
वो लहरो पे चलने के सपने
पंछियों संग उड़ने के अरमान
वो बचपन याद आता है …….!!

किताबो से ठसाठस भर बस्ता
पीठ पे लादे पैदल स्कूल जाना
गर्मी में पसीने में नहाया बदन
फिर भी मस्ती में हसते-२ आना
बेख़ौफ़ जीने की आजादी
वो बचपन याद आता है …….!!

दिन भर की उछल कूद
रात में थक कर सोना
माँ का गुस्से से बिगड़ना
पापा की डांट से डरना
माँ का आँचल में छुपाना
वो बचपन याद आता है…….!!

दादा जी का मेला दिखाना
दादी जी की गोद में लोरी सुनना
नाना जी का मिठाई दिलाना
नानी जी का कहानी सुनना
वो बचपन याद आता है…….!!
वो बचपन याद आता है…….!!

130 Views
You may also like:
साथी क्रिकेटरों के मध्य "हॉलीवुड" नाम से मशहूर शेन वॉर्न
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मैं तुम पर क्या छन्द लिखूँ?
रोहिणी नन्दन मिश्र
पिता की छांव
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
# हमको नेता अब नवल मिले .....
Chinta netam मन
विषय:सूर्योपासना
Vikas Sharma'Shivaaya'
"साहिल"
Dr. Alpa H.
निर्गुण सगुण भेद..?
मनोज कर्ण
पिता हैं छाँव जैसे
अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
वृक्ष थे छायादार पिताजी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐प्रेम की राह पर-24💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
भगवान श्री परशुराम जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरे दिल का दर्द
Ram Krishan Rastogi
सीख
Pakhi Jain
यादों की गठरी
Dr. Arti 'Lokesh' Goel
पापा
Kanchan Khanna
नमन!
Shriyansh Gupta
रिश्ते
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
ग़ज़ल
Anis Shah
माँ तेरी जैसी कोई नही।
Anamika Singh
पिता खुशियों का द्वार है।
Taj Mohammad
गुजर रही है जिंदगी अब ऐसे मुकाम से
Ram Krishan Rastogi
श्रम पिता का समाया
शेख़ जाफ़र खान
सितम देखते हैं by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
पितृ स्तुति
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
ये पहाड़ कायम है रहते ।
Buddha Prakash
'बेदर्दी'
Godambari Negi
कच्चे आम
Prabhat Ranjan
*हिम्मत मत हारो ( गीत )*
Ravi Prakash
🔥😊 तेरे प्यार ने
N.ksahu0007@writer
Loading...