Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 5, 2022 · 1 min read

फौजी

परवान चढ़े देश के खातिर,
वह भी थे इंसान न कि कोई काफिर,
‘हारा वही है जो लड़ा नहीं’ कह के,
बांध कफन वह बस निकल पड़े ।।

सीमा टेलर, छिम़पीयान‌‌‌ लम्बोर, चुरू, राजस्थान

4 Likes · 3 Comments · 65 Views
You may also like:
हौसला
Mahendra Rai
भरमा रहा है मुझको तेरे हुस्न का बादल।
सत्य कुमार प्रेमी
दिल के मेयार पर
Dr fauzia Naseem shad
हम पे सितम था।
Taj Mohammad
चामर छंद "मुरलीधर छवि"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
पिताजी
विनोद शर्मा सागर
माँ तुम अनोखी हो
Anamika Singh
“श्री चरणों में तेरे नमन, हे पिता स्वीकार हो”
Kumar Akhilesh
जिज्ञासा
Rj Anand Prajapati
न और ना प्रयोग और अंतर
Subhash Singhai
डिजिटल इंडिया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
प्यार करने की कभी कोई उमर नही होती
Ram Krishan Rastogi
✍️पत्थर-दिल✍️
'अशांत' शेखर
अश्रुपात्र A glass of years भाग 8
Dr. Meenakshi Sharma
✍️कृपया पुरुस्कार डाक से भिजवा दो!✍️
'अशांत' शेखर
बंद हैं भारत में विद्यालय.
Pt. Brajesh Kumar Nayak
उम्मीद की रोशनी में।
Taj Mohammad
जगत जननी है भारत …..
Mahesh Ojha
फास्ट फूड
Utsav Kumar Aarya
हमारी धरती
Anamika Singh
सूरज काका
Dr Archana Gupta
मजहबे इस्लाम नही सिखाता।
Taj Mohammad
प्यारी मेरी बहना
Buddha Prakash
पहाड़ों की रानी
Shailendra Aseem
दर्द होता है
Dr fauzia Naseem shad
शहीदों का यशगान
शेख़ जाफ़र खान
ये चिड़िया
Anamika Singh
✍️तू डरा मत ऐ जिंदगी...✍️
'अशांत' शेखर
.✍️आशियाना✍️
'अशांत' शेखर
*रठौंडा मन्दिर यात्रा*
Ravi Prakash
Loading...