Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2022 · 1 min read

फ़ायदा कुछ नहीं वज़ाहत का ।

फ़ायदा कुछ नहीं वज़ाहत का ।
आप अपनी नज़र से देखेंगे।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
9 Likes · 215 Views
You may also like:
'गणेशा' तू है निराला
Seema 'Tu hai na'
*बाल कवि सम्मेलन में सुकृति अग्रवाल ने आशु कविता सुना...
Ravi Prakash
✍️ये जरुरी नहीं✍️
'अशांत' शेखर
जल की अहमियत
Utsav Kumar Aarya
मारे ऊँची धाँक,कहे मैं पंडित ऊँँचा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मर्यादा का चीर / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
Kavita Nahi hun mai
Shyam Pandey
चलो जहाँ की रूसवाईयों से दूर चलें
VINOD KUMAR CHAUHAN
पिता, इन्टरनेट युग में
Shaily
🦋🦋दिल में बसाते हैं, पर एतबार नहीं करते🦋🦋
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मेरी जिन्दगी से।
Taj Mohammad
✍️फिर बच्चे बन जाते ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
भूल गयी वह चिट्ठी
Buddha Prakash
समर
पीयूष धामी
प्यार करने की कभी कोई उमर नही होती
Ram Krishan Rastogi
वसंत बहार
Shyam Sundar Subramanian
सुख़न का ख़ुदा
Shekhar Chandra Mitra
सच
विशाल शुक्ल
हर घर तिरंगा अभियान कितना सार्थक ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
पूर्वज
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कर्म का मर्म
Pooja Singh
द्विराष्ट्र सिद्धान्त के मुख्य खलनायक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
रावण दहन
Ashish Kumar
विभाजन की व्यथा
Anamika Singh
Book of the day: मालव (उपन्यास)
Sahityapedia
चंदा मामा
Dr. Kishan Karigar
बंद पंछी
लक्ष्मी सिंह
ग़म-ए-दिल....
Aditya Prakash
सुबह
AMRESH KUMAR VERMA
ढूंढते हैं मगर न जाने क्यों
Dr fauzia Naseem shad
Loading...