Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Aug 2021 · 1 min read

प्‍यार

प्‍यार

खासम खास
तोड़ता आया सदा
दिल तोड़ेगा ।

उड़ने देंगे
मन के गू‌ब्‍बार को
डोर पकड़ ।

उसने कहा
बगैर दिल की सुने
आप हैं झूठे ।

Language: Hindi
Tag: हाइकु
339 Views
You may also like:
Kis kis ko wajahat du mai
Kis kis ko wajahat du mai
Sakshi Tripathi
दो शे'र
दो शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
वचन मांग लो, मौन न ओढ़ो
वचन मांग लो, मौन न ओढ़ो
Shiva Awasthi
तोड़ देना चाहे ,पर कोई वादा तो कर
तोड़ देना चाहे ,पर कोई वादा तो कर
Ram Krishan Rastogi
मिलना हम मिलने आएंगे होली में।
मिलना हम मिलने आएंगे होली में।
सत्य कुमार प्रेमी
जिनवानी स्तुती (अभंग )
जिनवानी स्तुती (अभंग )
Ajay Chakwate *अजेय*
दिल टूट गईल
दिल टूट गईल
Shekhar Chandra Mitra
सिलसिले साँसों के भी थकने लगे थे, बेजुबां लबों को, रूह की खामोशी में थरथराना था।
सिलसिले साँसों के भी थकने लगे थे, बेजुबां लबों को,...
Manisha Manjari
दिन आये हैं मास्क के...
दिन आये हैं मास्क के...
आकाश महेशपुरी
स्त्री और नदी का स्वच्छन्द विचरण घातक और विनाशकारी
स्त्री और नदी का स्वच्छन्द विचरण घातक और विनाशकारी
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
ज़िंदगी का तो
ज़िंदगी का तो
Dr fauzia Naseem shad
प्रणय 6
प्रणय 6
Ankita Patel
Writing Challenge- खाली (Empty)
Writing Challenge- खाली (Empty)
Sahityapedia
ईश्वरीय प्रेरणा के पुरुषार्थ
ईश्वरीय प्रेरणा के पुरुषार्थ
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
*अष्टभुजाधारी हमें, दो माता उपहार (कुंडलिया)*
*अष्टभुजाधारी हमें, दो माता उपहार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
कई शामें शामिल होकर लूटी हैं मेरी दुनियां /लवकुश यादव
कई शामें शामिल होकर लूटी हैं मेरी दुनियां /लवकुश यादव...
लवकुश यादव "अज़ल"
प्रेरक कथा- *हिसाब भगवान रखते हैं-
प्रेरक कथा- *हिसाब भगवान रखते हैं-
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
होली (विरह)
होली (विरह)
लक्ष्मी सिंह
अहा!नव सृजन की भोर है
अहा!नव सृजन की भोर है
नूरफातिमा खातून नूरी
💐Prodigy Love-36💐
💐Prodigy Love-36💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
■ सत्ता की सौगात...
■ सत्ता की सौगात...
*Author प्रणय प्रभात*
" सब्र बचपन का"
Dr Meenu Poonia
घुमंतू की कविता #1
घुमंतू की कविता #1
Rajeev Dutta
#है_तिरोहित_भोर_आखिर_और_कितनी_दूर_जाना??
#है_तिरोहित_भोर_आखिर_और_कितनी_दूर_जाना??
संजीव शुक्ल 'सचिन'
बिना तुम्हारे
बिना तुम्हारे
Shyam Sundar Subramanian
✍️जिगर को सी लिया...!
✍️जिगर को सी लिया...!
'अशांत' शेखर
उफ़ यह कपटी बंदर
उफ़ यह कपटी बंदर
ओनिका सेतिया 'अनु '
जिंदगी एक ख़्वाब सी
जिंदगी एक ख़्वाब सी
डॉ. शिव लहरी
मुझे तरक्की की तरफ मुड़ने दो,
मुझे तरक्की की तरफ मुड़ने दो,
Satish Srijan
अल्फाज़
अल्फाज़
Dr.S.P. Gautam
Loading...