Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#9 Trending Author
May 26, 2021 · 1 min read

प्रेरणा

पल भर काफी है,
खुद को जीतने ,
या हारने के लिए,
गगन को चूमने,
या धरा को छूने के लिए,
पल भर…….।।१।

एहसास को जगाने,
या निराशा मिटाने के लिए,
दीपक जलाने को
या फूँक कर बुझाने को,
पल भर……।।२।

दुख-सुख आने को,
रिश्ते बनाने या विश्वास मिटाने को,
धागे को तोड़ने,
या गांँठ जोड़ने को,
पल भर…….।।३।

# बुद्ध प्रकाश

2 Likes · 206 Views
You may also like:
मैं सोता रहा......
Avinash Tripathi
धरा करे मनुहार…
Rekha Drolia
बिल्ले राम
Kanchan Khanna
सोचो जो बेटी ना होती
लक्ष्मी सिंह
ना पूंछ तू हिम्मत।
Taj Mohammad
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
मुखौटा
संदीप सागर (चिराग)
स्वाधीनता
AMRESH KUMAR VERMA
विश्व फादर्स डे पर शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सो गया है आदमी
कुमार अविनाश केसर
💐प्रेम की राह पर-33💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हमारी जां।
Taj Mohammad
✍️नोटबंदी✍️
"अशांत" शेखर
✍️अभी उलझे नहीं✍️
"अशांत" शेखर
✍️वो पलाश के फूल...!✍️
"अशांत" शेखर
मेरी तडपन अब और न बढ़ाओ
Ram Krishan Rastogi
वो कली मासूम
सूर्यकांत द्विवेदी
वो कहते हैं ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
कर्म का मर्म
Pooja Singh
मेरी गुड़िया (संस्मरण)
Kanchan Khanna
आपकी याद
Abhishek Upadhyay
ये जिंदगी एक उलझी पहेली
VINOD KUMAR CHAUHAN
अगर ज़रा भी हो इश्क मुझसे, मुझे नज़र से दिखा...
सत्य कुमार प्रेमी
कोई बात भी नहीं है।
Taj Mohammad
खानाबदोश ज़िंदगी
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
ये कैसा धर्मयुद्ध है केशव (युधिष्ठर संताप )
VINOD KUMAR CHAUHAN
बेचैन कागज
Dr Meenu Poonia
गीत... कौन है जो
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
कि राज दिल का उसको, कभी बता नहीं सके
gurudeenverma198
फिर से खो गया है।
Taj Mohammad
Loading...