Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

प्रेम हाला….

** प्रेम – हाला **
—————————-

पी ली मैंने पी की प्रेम-हाला
मन आनंद मदमस्त मधुशाला
बन पिय की हृदय रानी
गुलाबी-सा खुमार जानी
छाया प्रिय प्रेम का गरूर
पसर-पसर जाता सरुर
बना मन प्रेम-मधुशाला
प्रेम मधु पी बनी मधुबाला
हाँ पी ली मैंने पी की प्रेम-हाला ..
तेरी हल्की-सी छुअन
आकंठ भर देती कम्पन
नयनों में तेरा ही सतत चिंतन
दिखते सतरंगी सपने अनुक्षण
बड़-बड़ाऊँ लड़खड़ाऊँ होले-होले
रूठूँ मनाऊं लिपट-लिपट जाऊं
प्रेम मगन मन-डोले खाए हिचकोले
डूबती-तैरती-सी मचलती जाऊं
सागर की लहरों-सी इठलाऊं
प्रेम मधुर रस पी बनी प्रेम बाला
हाँ पी ली मैंने पी की प्रेम-हाला ….
वन में फैली शान्ति सी शांत हो जाऊं
किसी तरु शाखा-सी झूम-झूम जाऊं
कभी खग-पिक-सी प्रेम सुर गाऊं
सुधी तन-मन की भूल-भूल जाऊं
मन ही मन आनंद उत्सव मनाऊं
प्रेम सुधा रस पी बनी सुरबाला
हाँ पी ली मैंने पी की प्रेम-हाला …

***
डॉ. अनिता जैन ‘विपुला’

1 Comment · 193 Views
You may also like:
💐साधकस्य निष्ठा एव कल्याणकर्त्री💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
धरती अंवर एक हो गए, प्रेम पगे सावन में
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दिया
अनामिका सिंह
एक आवाज़ पर्यावरण की
Shriyansh Gupta
नशा नहीं सुहाना कहर हूं मैं
Dr Meenu Poonia
परिकल्पना
संदीप सागर (चिराग)
तुम्हारा प्यार अब नहीं मिलता।
सत्य कुमार प्रेमी
आओ मिलके पेड़ लगाए !
Naveen Kumar
''प्रकृति का गुस्सा कोरोना''
Dr Meenu Poonia
ईश्वर की जयघोश
AMRESH KUMAR VERMA
** बेटी की बिदाई का दर्द **
Dr. Alpa H. Amin
तुझसे रूठ कर
Sadanand Kumar
हे गुरू।
अनामिका सिंह
*श्री राजेंद्र कुमार शर्मा का निधन : एक युग का...
Ravi Prakash
मेरी तस्वीर
Dr fauzia Naseem shad
मेरे बेटे ने
Dhirendra Panchal
जोशवान मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
*"पिता"*
Shashi kala vyas
संकरण हो गया
सिद्धार्थ गोरखपुरी
💐💐वासुदेव: सर्वम्💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
घातक शत्रु
AMRESH KUMAR VERMA
हरीतिमा स्वंहृदय में
Varun Singh Gautam
समीक्षा -'रचनाकार पत्रिका' संपादक 'संजीत सिंह यश'
Rashmi Sanjay
जीवन की सौगात "पापा"
Dr. Alpa H. Amin
✍️✍️ए जिंदगी✍️✍️
"अशांत" शेखर
कलम की वेदना (गीत)
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
आप ऐसा क्यों सोचते हो
gurudeenverma198
मेरा इंतजार करना।
Taj Mohammad
दाता
निकेश कुमार ठाकुर
मन के गाँव
अनामिका सिंह
Loading...