Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jun 2016 · 1 min read

*प्रेम रतन*

जग में कायम शान रखिए
खुद से भी पहचान रखिए
प्रेम रतन को बाँट – बाँट
सबसे दुआ सलाम रखिए
*धर्मेन्द्र अरोड़ा*

Language: Hindi
Tag: मुक्तक
448 Views
You may also like:
✍️बुनियाद✍️
'अशांत' शेखर
ठिकरा विपक्ष पर फोडा जायेगा
Mahender Singh Hans
*अग्रसेन को नमन (घनाक्षरी)*
Ravi Prakash
मै तैयार हूँ
Anamika Singh
बाल मन
लक्ष्मी सिंह
गीत//तुमने मिलना देखा, हमने मिलकर फिर खो जाना देखा।
Shiva Awasthi
एक तलाश
Ray's Gupta
आपकी यादों में
Er.Navaneet R Shandily
पति पत्नी पर हास्य व्यंग
Ram Krishan Rastogi
मनुज से कुत्ते कुछ अच्छे।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पितृ वंदना
मनोज कर्ण
छल प्रपंच का जाल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
💐💐प्रेम की राह पर-74💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सोचता रहता है वह
gurudeenverma198
हम जो तुम किसी से ना कह सको वो कहानी...
J_Kay Chhonkar
अख़बारों में क्या रखा है?
Shekhar Chandra Mitra
"आधुनिकता का परछावा"
MSW Sunil SainiCENA
इन ख़यालों के परिंदों को चुगाने कब से
Anis Shah
सरकारी चिकित्सक
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
शून्य से अनन्त
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
सास और बहु
Vikas Sharma'Shivaaya'
निस्वार्थ पापा
Shubham Shankhydhar
तेरे ख़त
Kaur Surinder
तुम मेरी हो...
Sapna K S
गम होते हैं।
Taj Mohammad
वफादारी
shabina. Naaz
इस कहानी को नया इक मोड़ दूँ क्या
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
12
Dr Archana Gupta
तुलसी दास जी के
Surya Barman
बुलबुला
मनोज शर्मा
Loading...