Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

#पूज्य पिता जी

पिता उजाला बन जीवन का, अँधियारा घोर मिटाए।
परिवार हेतु निज सुख भूले, हर चिंता दूर भगाए।।
माता धरती आकाश पिता, प्रतिपल में मंगलकारी।
स्नेह सुधा का पान कराए, निश्छल नित जीवन पारी।।

संतान चढ़े सोपान नये, फलीभूत संस्कारों में।
सोच पिता की कमी न छोड़ूँ, क्षणभर भी व्यवहारों में।।
माता दुख में रो देती है, हिम्मत पिता बढ़ाता है।
दर्द छिपाकर हँस लेता है, मरहम ख़ुद बन जाता है।।

भूल भुलाता संतानों की, अवसर अभिनव देता है।
नैनों की अभिलाषाओं को, पलभर में पढ़ लेता है।।
माँग-पूर्ति सम दम से करता, बच्चों के अरमानों की।
सहज सुघर जीवन देता है, चाल मोड़ तूफ़ानों की।।

कामयाब जब संतान बने, सीना चौड़ा हो जाता।
इसी ख़ुशी का गीत बनाकर, सबके आगे है गाता।।
सच्ची पूँजी औलाद यहाँ, वैभव मात्र छलावा है।
औलाद सही सब सही यहाँ, नेक पिता का दावा है।।

हृदय पिता का तोड़ न देना, पिता तुझे भी बनना है।
इसी अग्नि में एक दिवस फिर, काश! यादकर जलना है।।
आशीष पिता का पाकर हम, अंबर भी छू सकते हैं।
चलें दिखाई राहों पर जो, मंज़िल पर ही रुकते हैं।।

#आर.एस. ‘प्रीतम’
सर्वाधिकार सुरक्षित रचना

13 Likes · 20 Comments · 352 Views
You may also like:
मैं बहती गंगा बन जाऊंगी।
Taj Mohammad
पिता
Anis Shah
स्वयं में एक संस्था थे श्री ओमकार शरण ओम
Ravi Prakash
* अदृश्य ऊर्जा *
Dr. Alpa H. Amin
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
घुतिवान- ए- मनुज
AMRESH KUMAR VERMA
आपस में तुम मिलकर रहना
Krishan Singh
वक्त ए नमाज़ है।
Taj Mohammad
मेरे बुद्ध महान !
मनोज कर्ण
सेहरा गीत परंपरा
Ravi Prakash
चिड़ियाँ
Anamika Singh
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
मां की महानता
Satpallm1978 Chauhan
हाइकु:(लता की यादें!)
Prabhudayal Raniwal
भूल जा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
मदहोश रहे सदा।
Taj Mohammad
लूटपातों की हयात
AMRESH KUMAR VERMA
मांडवी
Madhu Sethi
यह दुनिया है कैसी
gurudeenverma198
कोई तो दिन होगा।
Taj Mohammad
"समय का पहिया"
Ajit Kumar "Karn"
गम आ मिले।
Taj Mohammad
✍️बोन्साई✍️
"अशांत" शेखर
चिंता और चिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
【26】**!** हम हिंदी हम हिंदुस्तान **!**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मुक्तक- उनकी बदौलत ही...
आकाश महेशपुरी
सोंच समझ....
Dr. Alpa H. Amin
पिता अम्बर हैं इस धारा का
Nitu Sah
सच
Vikas Sharma'Shivaaya'
पिता श्रेष्ठ है इस दुनियां में जीवन देने वाला है
सतीश मिश्र "अचूक"
Loading...