Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

पितृ स्तुति

जो देकर अपनी ऊर्जा, करे नवग्रह का संचार।
उसी सूर्य सम तात है सन्तान के सकल संसार।।

पिता सूर्य हैं, पिता है बरगद
गम में दुखी हैं खुशी में गदगद
बच्चों में मिल बच्चे बन जाएं
हर दुख को खुद ही सह जाएं
उन्हीं पिता के हम गुण गाएं
उनको हम सब शीश झुकाएं

पिता हैं पोषक, पिता सहारा
ये संतति के हैं सृजन हारा
पूरे कुल का जो भार उठाएं
कभी न इनके दिल को दुखाएं
उन्हीं पिता के हम गुण गाएं
उनको हम सब शीश झुकाएं

पिता हैं मेला, पिता है ठेला
पिता बिना लगे संसार अकेला
अपना दुःख न कभी जताएं
जो बिना आंसुओं के रो पाएं
उन्हीं पिता के हम गुण गाएं
उनको हम सब शीश झुकाएं

पिता क्रोध, पिता पालनहारा
इनके क्रोध में छिपा सहारा
दुःख में भी तो ये हंसते जाएं
हम रहस्य को समझ न पाएं
उन्हीं पिता के हम गुण गाएं
उनको हम सब शीश झुकाएं

पिता कठोर हैं उतने ही मृदल
जो नित पिता का आशीष पाएं
वह कर्म करें न पाछे पछताएं
सारी विपदा से वह बच जाएं
उन्हीं पिता के हम गुण गाएं
उनको हम सब शीश झुकाएं

पिता सृष्टि संतान का पिता ही जन आधार।
पिता की छाया मात्र से हो जाता उद्धार!।।

8 Likes · 8 Comments · 113 Views
You may also like:
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
जिंदगी को खामोशी से गुज़ारा है।
Taj Mohammad
इसी से सद्आत्मिक -आनंदमय आकर्ष हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पक्षियों से कुछ सीखें
Vikas Sharma'Shivaaya'
💐 हे तात नमन है तुमको 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मै जलियांवाला बाग बोल रहा हूं
Ram Krishan Rastogi
💐प्रेम की राह पर-27💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
संस्मरण:भगवान स्वरूप सक्सेना "मुसाफिर"
Ravi Prakash
रामे क बरखा ह रामे क छाता
Dhirendra Panchal
अनोखा गुलाब (“माँ भारती ”)
DESH RAJ
शोहरत नही मिली।
Taj Mohammad
मेरे दिल को जख्मी तेरी यादों ने बार बार किया
Krishan Singh
अप्सरा
Nafa writer
इश्क ए दास्तां को।
Taj Mohammad
दिल और गुलाब
Vikas Sharma'Shivaaya'
बहाना
Vikas Sharma'Shivaaya'
कुछ ख़ास करते है।
Taj Mohammad
*कथावाचक श्री राजेंद्र प्रसाद पांडेय 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
💐 गुजरती शाम के पैग़ाम💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
【21】 *!* क्या आप चंदन हैं ? *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
पुस्तक समीक्षा -एक थी महुआ
Rashmi Sanjay
रावण का प्रश्न
Anamika Singh
अल्फाज़ ए ताज भाग-5
Taj Mohammad
माँ, हर बचपन का भगवान
Pt. Brajesh Kumar Nayak
परख लो रास्ते को तुम.....
अश्क चिरैयाकोटी
बेसहारा हुए हैं।
Taj Mohammad
जग के पिता
DESH RAJ
क्या कोई मुझे भी बताएगा
Krishan Singh
गंगा दशहरा
श्री रमण
ये शिक्षामित्र है भाई कि इसमें जान थोड़ी है
आकाश महेशपुरी
Loading...