Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 5, 2022 · 1 min read

पिता की अभिलाषा

पिता की अभिलाषा
~~°~~°~~°
शिकायत नहीं जग से मुझको ,
बस तेरे खुशी को ही तो जीता हूँ ।
तुझे स्नेह भरा अमिय सागर देकर मैं ,
युगों-युगों से हलाहल पीता हूँ ।

तुम रहो सदा खुशहाल वतन को ,
इसलिए मैं कुछ-कुछ आहें भरता हूँ ।
तुम जियो हजारों साल प्रिय सुत ,
ख़्वाबों में बस,तेरे ही सपने संजोता हूँ।

होठों पर तेरा, रहे मुस्कान सदा जो ,
इसलिए परेशान मैं, कुछ कुछ रहता हूँ ।
होता नहीं कोई थकान मुझे तब ,
जब स्वच्छंद उड़ान करता,मैं तुझे पाता हूँ ।

प्रबल धार नैया, डगमग न हो जाए ,
इसलिए पतवार मैं थामें रहता हूँ ।
साहिल पर तुझे लाना,कर्तव्य मेरा है ,
पग-पग बाधाओं से नहीं डरता हूँ ।

श्रद्धांजलि बनने को,मेरा तन जब ,
मृत्युशैय्या पर लेटा,तुझे स्मरण करे ।
दौड़े चले आना, कहीं रहो पुत्र तुम ,
अंतिम स्नेह सुमन,पिता अर्पण जो करे।

मौलिक एवं स्वरचित
© ® मनोज कुमार कर्ण
कटिहार ( बिहार )
तिथि – ०५ /०५ /२०२२

14 Likes · 27 Comments · 463 Views
You may also like:
दुनिया की रीति
AMRESH KUMAR VERMA
लत...
Sapna K S
बचपन की यादें
AMRESH KUMAR VERMA
हायकु मुक्तक-पिता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
चिट्ठी का जमाना और अध्यापक
Mahender Singh Hans
💐प्रेम की राह पर-30💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पवनपुत्र, हे ! अंजनि नंदन ....
ईश्वर दयाल गोस्वामी
रफ़्तार के लिए (ghazal by Vinit Singh Shayar)
Vinit Singh
Blessings Of The Lord Buddha
Buddha Prakash
लूटपातों की हयात
AMRESH KUMAR VERMA
बहुत घूमा हूं।
Taj Mohammad
मैं वफ़ा हूँ अपने वादे पर
gurudeenverma198
सारे द्वार खुले हैं हमारे कोई झाँके तो सही
Vivek Pandey
देवदूत डॉक्टर
Buddha Prakash
गर्मी पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
गणतंत्र दिवस
Aditya Prakash
आदर्श पिता
Sahil
[ कुण्डलिया]
शेख़ जाफ़र खान
संविधान निर्माता को मेरा नमन
Surabhi bharati
यकीन
Vikas Sharma'Shivaaya'
मै और तुम ( हास्य व्यंग )
Ram Krishan Rastogi
💐 माये नि माये 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ज़ाफ़रानी
Anoop Sonsi
मनस धरातल सरक गया है।
Saraswati Bajpai
“ मेरे राम ”
DESH RAJ
प्रेम की पींग बढ़ाओ जरा धीरे धीरे
Ram Krishan Rastogi
लड़के और लड़कियों मे भेद-भाव क्यों
Anamika Singh
नए जूते
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मरते वक्त उसने।
Taj Mohammad
भारत के इतिहास में मुरादाबाद का स्थान
Ravi Prakash
Loading...