Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

पिता

दिन-रात एक करके पिता करता कमाई।
बच्चों के लिए ख़ुद की भी तकलीफ़ भुलाई।
करता है त्याग और तपस्या वो हर क़दम-
लेकिन पिता ने मान कहांँ मांँओं सी पाई।

कपड़े खिलौने स्कूल किताबें है जुटाता।
बच्चों की हर जरूरतों को पूरी कराता।
करता पिता भी लाड़ है माता के बराबर-
हर फर्ज़ निभाता है मगर कह नहीं पाता।

पढ़ लिख के कुछ अच्छा करे हमारी भी संतान।
जग में करे हासिल सदा ही मान औ सम्मान।
मुझसे भी अधिक नाम योग्यता हो बच्चों की-
उसके ही नाम से बने पिता की भी पहचान।

सहता है धूप-छांँव मन में लक्ष्य को पाले।
ख़ुद जल के करे बच्चों के जीवन में उजाले।
परिवार घर की नींव है दीवार है पिता-
हर आंँधियों से दुःख की बचाए व संभाले।

रिपुदमन झा ‘पिनाकी’
धनबाद (झारखण्ड)
स्वरचित एवं मौलिक

5 Likes · 4 Comments · 109 Views
You may also like:
मां ने।
Taj Mohammad
तोड़कर तुमने मेरा विश्वास
gurudeenverma198
जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"क़तरा"
Ajit Kumar "Karn"
"मैं फ़िर से फ़ौजी कहलाऊँगा"
Lohit Tamta
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
भोजपुरी के संवैधानिक दर्जा बदे सरकार से अपील
आकाश महेशपुरी
सालो लग जाती है रूठे को मानने में
Anuj yadav
नफरत की राजनीति...
मनोज कर्ण
हे मनुष्य!
Vijaykumar Gundal
मुरादाबाद स्मारिका* *:* *30 व 31 दिसंबर 1988 को उत्तर...
Ravi Prakash
💐💐प्रेम की राह पर-21💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग४]
Anamika Singh
सपना
AMRESH KUMAR VERMA
✍️✍️तो सूर्य✍️✍️
"अशांत" शेखर
भरोसा नहीं रहा।
Anamika Singh
पिता अम्बर हैं इस धारा का
Nitu Sah
✍️✍️ओढ✍️✍️
"अशांत" शेखर
यदि मेरी पीड़ा पढ़ पाती
Saraswati Bajpai
वैश्या का दर्द भरा दास्तान
Anamika Singh
भ्रम है पाला
Dr. Alpa H. Amin
यूं हुस्न की नुमाइश ना करो।
Taj Mohammad
संघर्ष
Anamika Singh
💐 देह दलन 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
केंचुआ
Buddha Prakash
हिरण
Buddha Prakash
मुंह की लार – सेहत का भंडार
Vikas Sharma'Shivaaya'
नाम लेकर भुला रहा है
Vindhya Prakash Mishra
तो पिता भी आसमान है।
Taj Mohammad
पर्यावरण दिवस
Ram Krishan Rastogi
Loading...