Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Apr 2022 · 1 min read

पापा

पापा,,
शब्द नहीं.. भावनाएं हैं।
बच्चे से जुड़ी पिता की सारी संवेदनाएं हैं।।
पिता हैं क्या,,
ये एक पिता ही समझ सकता हैं।
पिता के मर्म को जानने को,,
पिता बनना पड़ता हैं।।
पिता हो ,, तो हर मकाम हैं,,
उसका होना ही प्रकाश हैं।
पिता सीढ़ी हैं,, पिता कंधा हैं,,
पिता का होता मिज़ाज़ गेहरा हैं।।
फ़टे जूतों को ख़ुद के लिये सिल,,
वो बूट्स दिलवाता हैं।
सबकी हँसी बरकरार रखने को,,,
वो आंधियो से टकराता हैं।।
माँ पर लिखते ग्रन्थ गेहरे,,
आख़िर पिता पर भी तो कुछ बनता हैं।
पिता पालता हैं पसीने से,,
अगर माँ का रक्त लगता हैं।।
पिता का होना जीवन,,
पिता हर मर्ज़ का इलाज़ रखता हैं।।
और पिता हैं तो सारा बाज़ार अपना,,
उसके बिना सब अधूरा रहता हैं।
पिता हैं तो फ़तेह हो सारा संसार अपना,,
वरना सोना भी माटी सा लगता हैं।।
वरना सोना भी माटी सा लगता हैं।।
.
.
सेजल गोस्वामी
नई दिल्ली

Language: Hindi
Tag: कविता
10 Likes · 10 Comments · 415 Views
You may also like:
पिता क्या है?
Varsha Chaurasiya
रक्षा बंधन :दोहे
Sushila Joshi
बुआ आई
राजेश 'ललित'
“ प्रतिक्रिया ,समालोचना आ टिप्पणी “
DrLakshman Jha Parimal
✍️आसमाँ का हौसला देता है✍️
'अशांत' शेखर
दिन बड़ा बनाने में
डी. के. निवातिया
परख किसको है यहां
Seema 'Tu hai na'
कर्म
Rakesh Pathak Kathara
उम्मीद
Harshvardhan "आवारा"
*तितली रानी (बाल कविता)*
Ravi Prakash
सदा सुहागन रहो
VINOD KUMAR CHAUHAN
पुराने खत
sangeeta beniwal
आदतें
AMRESH KUMAR VERMA
आनंद अपरम्पार मिला
श्री रमण 'श्रीपद्'
दर्शन शास्त्र के ज्ञाता, अतीत के महापुरुष
Mahender Singh Hans
द्रौपदी चीर हरण
Ravi Yadav
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग ५]
Anamika Singh
कोरोना माई के प्रताप पर 3 कुण्डलिया
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
भक्तिरेव गरीयसी
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
🚩पिता
Pt. Brajesh Kumar Nayak
खेवनहार गाँधी थे
आकाश महेशपुरी
बरसात
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
इंसानियत का एहसास भी
Dr fauzia Naseem shad
महाप्रभु वल्लभाचार्य जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
किया है तुम्हें कितना याद ?
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
मुहब्बत और जंग
shabina. Naaz
कमर तोड़ता करधन
शेख़ जाफ़र खान
जिंदगी तुमसे जीना सीखा
Abhishek Pandey Abhi
प्रतीक्षा की स्मित
Rashmi Sanjay
उम्मीद का चराग।
Taj Mohammad
Loading...