Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#7 Trending Author
Oct 20, 2016 · 1 min read

पाकर भी तुझको ज़िन्दगी पाया नहीं कभी

पाकर भी तुझको ज़िन्दगी पाया नहीं कभी
कहते हैं जिसको जीना वो आया नहीं कभी

चाहें किये हो कर्म भलाई के कम बहुत
पर नेकियों को अपनी भुनाया नहीं कभी

खाते कदम कदम पे रहे ठोकरें यहाँ
पर आस के दिए को बुझाया नहीं कभी

हम दूर मंज़िलों से ही रहते रहे मगर
कमजोर को यहाँ पे गिराया नहीं कभी

हमने किसी की आह ले संसार में सुनो
कोई महल ख़ुशी का बनाया नहीं कभी

डॉ अर्चना गुप्ता

2 Comments · 286 Views
You may also like:
मिटटी
Vikas Sharma'Shivaaya'
लड़ते रहो
Vivek Pandey
खुदा बना दे।
Taj Mohammad
फूलों की वर्षा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
किसी और के खुदा बन गए है।
Taj Mohammad
कमली हुई तेरे प्यार की
Swami Ganganiya
चलो जहाँ की रूसवाईयों से दूर चलें
VINOD KUMAR CHAUHAN
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
दाने दाने पर नाम लिखा है
Ram Krishan Rastogi
I Can Cut All The Strings Attached
Manisha Manjari
भोजपुरी के संवैधानिक दर्जा बदे सरकार से अपील
आकाश महेशपुरी
✍️मातम और सोग है...!✍️
"अशांत" शेखर
पाखंडी मानव
ओनिका सेतिया 'अनु '
'हाथी ' बच्चों का साथी
Buddha Prakash
मातृभाषा हिंदी
AMRESH KUMAR VERMA
आग
Anamika Singh
Sweet Chocolate
Buddha Prakash
【1】*!* भेद न कर बेटा - बेटी मैं *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
Feel it and see that
Taj Mohammad
नशामुक्ति (भोजपुरी लोकगीत)
संजीव शुक्ल 'सचिन'
भगवान परशुराम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
O brave soldiers.
Taj Mohammad
✍️✍️चार बूँदे...✍️✍️
"अशांत" शेखर
【21】 *!* क्या आप चंदन हैं ? *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
होना सभी का हिसाब है।
Taj Mohammad
बारिश की बौछार
Shriyansh Gupta
फीका त्यौहार
पाण्डेय चिदानन्द
पानी यौवन मूल
Jatashankar Prajapati
बेरोजगारी जवान के लिए।
Taj Mohammad
" शिवोहम रिट्रीट "
Dr Meenu Poonia
Loading...