Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 7, 2021 · 1 min read

पर्यावरण पर दोहे

1
स्वस्थ अगर पर्यावरण, स्वस्थ तभी संसार
भूल गया मानव इसे, कर डाला बीमार
2
दूषित है पर्यावरण, आओ करें इलाज
शुद्ध बनाए जो इसे,शुरू करें वो काज
3
धरा गगन पानी हवा, सबको रखिए क्लीन
पेड़ लगाकर दीजिए,धरती को वैक्सीन
4
मिली प्राकृतिक संपदा, हम सबको उपहार
मानव जीवन को यही, देते हैं आधार
5
बोतल में पानी मिले, ऑक्सीजन भी मोल
खतरे में अब जिंदगी, मानव आंखें खोल
6
आहें भरती है नदी,पर्वत सहे कटान
लेकिन सुख को आदमी, ऊंची भरे उड़ान
7
दूषित अब मिलती हवा, जहरीला है आब
इसमें कैसे जिंदगी, देखे मीठे ख्वाब

7.6.2021
डॉ अर्चना गुप्ता
मुरादाबाद

6 Likes · 4 Comments · 563 Views
You may also like:
✍️जिंदगी के सैलाब ✍️
'अशांत' शेखर
💐साधकस्य निष्ठा एव कल्याणकर्त्री💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
#मोहब्बत मेरी
Seema 'Tu haina'
कुछ काम करो
Anamika Singh
रामायण आ रामचरित मानस मे मतभिन्नता -खीर वितरण
Rama nand mandal
यह मत भूलों हमने कैसे आजादी पाई है
Anamika Singh
तिरंगा
लक्ष्मी सिंह
आज़ादी का परचम
Rekha Drolia
ख़्वाब कोई
Dr fauzia Naseem shad
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
Daughter of Nature.
Taj Mohammad
मिटाने लगें हैं लोग
Mahendra Narayan
आज नहीं तो कल होगा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
घड़ी
Utsav Kumar Aarya
महब्बत का यारो, यही है फ़साना
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
यश तुम्हारा भी होगा
Rj Anand Prajapati
अगर नशा सिर्फ शराब में
Nitu Sah
मेरी आंखों में
Dr fauzia Naseem shad
और न साजन तड़पाओ अब तुम
Ram Krishan Rastogi
✍️✍️ए जिंदगी✍️✍️
'अशांत' शेखर
हो तुम किसी मंदिर की पूजा सी
Rj Anand Prajapati
दोहा में लय, समकल -विषमकल, दग्धाक्षर , जगण पर विचार...
Subhash Singhai
*माँ छिन्नमस्तिका 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
रोना भी बहुत जरूरी है।
Taj Mohammad
मेरे ख्यालों में क्यो आते हो
Ram Krishan Rastogi
दिले यार ना मिलते हैं।
Taj Mohammad
बरगद का पेड़
Manu Vashistha
नज़रिया
Shyam Sundar Subramanian
आफताबे रौशनी मेरे घर आती नहीं।
Taj Mohammad
सत्य कभी नही मिटता
Anamika Singh
Loading...