Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

पटने-वाली नहीं

आज चौक पर अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई, एक 71 वर्षीय बुजुर्ग बड़ी चुभीली अंदाज़ में ‘भजन’ गा रहे थे, उसी समय कॉलेज जाने को टेम्पो पकड़ने आयी 20 वर्षीया एक युवती ने बेहद कर्कश अंदाज़ में उस बुजुर्ग के समक्ष आकर कह दी- ‘अपने को अनूप जलोटा समझा है क्या ? मैं पटना की हूँ, पर पटनेवाली नहीं हूँ !’
सोचने लगा कि कुछ वर्ष पहले का ‘बिग बॉस’ ड्रामा अवतार तो नहीं यह ?

2 Likes · 166 Views
You may also like:
मंज़िल मौत है तो जिंदगी एक सफ़र है
Krishan Singh
कृष्ण मुरारी
Rekha Drolia
इश्क़ नहीं हम
Varun Singh Gautam
✍️✍️हिमाक़त✍️✍️
'अशांत' शेखर
मैथिली के प्रथम मुस्लिम कवि फजलुर रहमान हाशमी (शख्सियत) -...
श्रीहर्ष आचार्य
'पूरब की लाल किरन'
Godambari Negi
दर बदर।
Taj Mohammad
✍️वो कहना ही भूल गया✍️
'अशांत' शेखर
अपनी नींदें
Dr fauzia Naseem shad
जन्माष्टमी
लक्ष्मी सिंह
भोले भंडारी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
दिल से निकली बात
shabina. Naaz
तुम्हारे माता-पिता
Saraswati Bajpai
ऐ जिन्दगी
Anamika Singh
✍️बचपन से पचपन तक✍️
'अशांत' शेखर
मुक्तक- उनकी बदौलत ही...
आकाश महेशपुरी
ताला-चाबी
Buddha Prakash
आज आदमी क्या क्या भूल गया है
Ram Krishan Rastogi
पति पत्नी पर हास्य व्यंग
Ram Krishan Rastogi
ताकि याद करें लोग हमारा प्यार
gurudeenverma198
कुत्ते भौंक रहे हैं हाथी निज रस चलता जाता
Pt. Brajesh Kumar Nayak
दुआएं करेंगी असर धीरे- धीरे
Dr Archana Gupta
✍️ये केवल संकलन है,पाठकों के लिये प्रस्तुत
'अशांत' शेखर
एक था ब्लैक टाइगर रविन्द्र कौशिक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
गुणगान क्यों
spshukla09179
🔥😊 तेरे प्यार ने
N.ksahu0007@writer
ख्वाब
Harshvardhan "आवारा"
एसजेवीएन - बढ़ते कदम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
उम्मीद पूर्ण व सुखद जिंदगी
Aditya Prakash
Loading...