Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 22, 2022 · 1 min read

नेताओं के घर भी बुलडोजर चल जाए

नेताओं के घर जनता का बुलडोजर जिस दिन चल जाए? सरकारी बंगलें भी जमीजंद हो जाए?
फिर देखो सरकारी सुविधाओं का मुफ़्त घर तुम्हारा कैसे छुट जाए? नेतागिरी भी टूट जाए?
© किशन कारीगर

2 Likes · 2 Comments · 109 Views
You may also like:
आओ तुम
sangeeta beniwal
वो एक तुम
Saraswati Bajpai
भगत सिंह का प्यार था देश
Anamika Singh
समय भी कुछ तो कहता है
D.k Math
काफ़िर जमाना
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
✍️स्टेचू✍️
"अशांत" शेखर
जिंदगी की रेस
DESH RAJ
पुस्तक
AMRESH KUMAR VERMA
आनंद अपरम्पार मिला
श्री रमण
✍️✍️जरी ही...!✍️✍️
"अशांत" शेखर
श्रमिक जो हूँ मैं तो...
मनोज कर्ण
✍️हार और जित✍️
"अशांत" शेखर
*रामपुर रजा लाइब्रेरी में रक्षा-ऋषि लेफ्टिनेंट जनरल श्री वी. के....
Ravi Prakash
पुस्तक समीक्षा
Rashmi Sanjay
✍️ये अज़ीब इश्क़ है✍️
"अशांत" शेखर
*अग्रसेन भागवत के महान गायक आचार्य विष्णु दास शास्त्री :...
Ravi Prakash
तुम ही ये बताओ
Mahendra Rai
ये शिक्षामित्र है भाई कि इसमें जान थोड़ी है
आकाश महेशपुरी
राम नाम जप ले
Swami Ganganiya
✍️घर में सोने को जगह नहीं है..?✍️
"अशांत" शेखर
आदर्श ग्राम्य
Tnmy R Shandily
घर की इज्ज़त।
Taj Mohammad
डाक्टर भी नहीं दवा देंगे।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️वो उड़ते रहता है✍️
"अशांत" शेखर
Angad tiwari
Angad Tiwari
✍️जश्न-ए-चराग़ाँ✍️
"अशांत" शेखर
इतना न कर प्यार बावरी
Rashmi Sanjay
My eyes look for you.
Taj Mohammad
अखबार ए खास
AJAY AMITABH SUMAN
चौंक पड़ती हैं सदियाॅं..
Rashmi Sanjay
Loading...