Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 10, 2022 · 1 min read

नुमाइश बना दी तुने I

दर्द में जीने की आदत हो गई है, मुझे
अब तो रिश्तों को सीने की आदत हो गई मुझे।
ये टुकड़ा है हृदय का जिसे नुमाइश बना दी तुने ।
कैसे जीएगी तुने कहा ,
मेरे होंठ चुप थे।रो रही थी , मैं
पर अंतर्मन बोल उठी
वर्षों के दरम्यान खो चुकी मैं
पर एक पल में सारी पहचान खो चुकी मैं ।
दग्ध हृदय को आज अनुभव कर ली जीवन से,
आज मैंने जीवन में मौन मौत देखा
मौत पर शरीर दग्ध होना है सिर्फ
मेरे दर्द मुस्कराते हैं।
साक्षी भाव जब आते हैं।
द्रष्टा भाव का असर होश में हमें लाते हैं।
मेरे आँख जलते हैं आँसू खो जाने से,
मेरे होंठ बोलते हैं,अपने हृदय से ये कौन सा असर हैं।
अपने हौसले बुलंद नहीं रहा हैं क्या
खुद से खुद बोलते हैं।
मेरे दर्द मुस्कराते हैं।
दर्द में जीने की आदत हो गई है मुझे
अब ……….
_डॉ. सीमा कुमारी,बिहार,भागलपुर,दिनांक-10-4-22की मौलिक एवं स्वरचित रचना जिसे आज प्रकाशित कर रही हूं

3 Likes · 2 Comments · 104 Views
You may also like:
युद्ध आह्वान
Aditya Prakash
कौन किसके बिन अधूरा है
Ram Krishan Rastogi
जाऊं कहां मैं।
Taj Mohammad
बॉर्डर पर किसान
Shriyansh Gupta
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
सर रख कर रोए।
Taj Mohammad
अमर काव्य हर हृदय को, दे सद्ज्ञान-प्रकाश
Pt. Brajesh Kumar Nayak
श्रम पिता का समाया
शेख़ जाफ़र खान
बाबा ब्याह ना देना,,,
Taj Mohammad
बुलन्द अशआर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️✍️ठोकर✍️✍️
"अशांत" शेखर
नवगीत -
Mahendra Narayan
✍️कधी कधी✍️
"अशांत" शेखर
तेरा यह आईना
gurudeenverma198
मेरी राहे तेरी राहों से जुड़ी
Dr. Alpa H. Amin
सारी दुनिया से प्रेम करें, प्रीत के गांव वसाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
है रौशन बड़ी।
Taj Mohammad
यही है भीम की महिमा
Jatashankar Prajapati
गढ़वाली चित्रकार मौलाराम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
फरियाद
Anamika Singh
कवि की नज़र से - पानी
बिमल
लिखता जा रहा है वह
gurudeenverma198
वक्त सा गुजर गया है।
Taj Mohammad
पिता
Kanchan Khanna
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
कर्म में कौशल लाना होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
न्याय का पथ
AMRESH KUMAR VERMA
✍️मैं जब पी लेता हूँ✍️
"अशांत" शेखर
मेरी प्यारी प्यारी बहिना
gurudeenverma198
सूर्यज्वाळा
"अशांत" शेखर
Loading...