Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Sep 2022 · 1 min read

*नि:स्वार्थ विद्यालय सृजित जो कर गए उनको नमन (गीत)*

*नि:स्वार्थ विद्यालय सृजित जो कर गए उनको नमन (गीत)*
_________________________
नि:स्वार्थ विद्यालय सृजित जो, कर गए उनको नमन
(1)
जिनका हृदय परहित भरा था, भाव पर-उपकार था
शिक्षित समूची सृष्टि करने, श्रेष्ठ उच्च विचार था
गाथा सदा गाते रहेंगे, भव्य शिक्षा के भवन
(2)
निष्काम जिनके भाव थे, विद्वान सब संसार हो
विद्या सुलभ घर-घर बने, इस यत्न का विस्तार हो
अविराम तन-मन और धन का, दान थी जिन की लगन
(3)
उस पंथ पर हम पग धरें, वह जो कि उनकी साधना
परमार्थ सेवाभाव जिनकी थी नियत आराधना
कर्तव्य-पथ जिनका सुवासित, था बिना कोई थकन
नि:स्वार्थ विद्यालय सृजित जो, कर गए उनको नमन
—————————————-
रचयिता : रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा, रामपुर (उ. प्र.)
मोबाइल 99976 15451

103 Views

Books from Ravi Prakash

You may also like:
बड़े शत्रु को मार अकड़ना अच्छा लगता है (हिंदी गजल/गीतिका)
बड़े शत्रु को मार अकड़ना अच्छा लगता है (हिंदी गजल/गीतिका)
Ravi Prakash
आशिकी
आशिकी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक रात का मुसाफ़िर
एक रात का मुसाफ़िर
VINOD KUMAR CHAUHAN
ज़रूरी था
ज़रूरी था
Shivkumar Bilagrami
किस हक से जिंदा हुई
किस हक से जिंदा हुई
कवि दीपक बवेजा
Writing Challenge- साहस (Courage)
Writing Challenge- साहस (Courage)
Sahityapedia
नींव में इस अस्तित्व के, सैकड़ों घावों के दर्द समाये हैं, आँखों में चमक भी आयी, जब जी भर कर अश्रु बहाये हैं।
नींव में इस अस्तित्व के, सैकड़ों घावों के दर्द समाये...
Manisha Manjari
गीत-1 (स्वामी विवेकानंद जी)
गीत-1 (स्वामी विवेकानंद जी)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
चंद अशआर -ग़ज़ल
चंद अशआर -ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
वक़्त ने वक़्त की
वक़्त ने वक़्त की
Dr fauzia Naseem shad
■ अभिमत.....
■ अभिमत.....
*Author प्रणय प्रभात*
अगर नाम करने का वादा है ठाना,
अगर नाम करने का वादा है ठाना,
Satish Srijan
Tumhari khahish khuch iss kadar thi ki sajish na samajh paya
Tumhari khahish khuch iss kadar thi ki sajish na samajh...
Sakshi Tripathi
कब तक
कब तक
Surinder blackpen
गीत-बेटी हूं हमें भी शान से जीने दो
गीत-बेटी हूं हमें भी शान से जीने दो
SHAMA PARVEEN
पहली दफा
पहली दफा
जय लगन कुमार हैप्पी
मन संसार
मन संसार
Buddha Prakash
अल्लादीन का चिराग़
अल्लादीन का चिराग़
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
वक्र यहां किरदार
वक्र यहां किरदार
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मैं शायर तो नहीं था
मैं शायर तो नहीं था
Shekhar Chandra Mitra
मानव इतिहास के महानतम् मार्शल आर्टिस्टों में से एक
मानव इतिहास के महानतम् मार्शल आर्टिस्टों में से एक "Bruce...
Pravesh Shinde
आने वाला कल दुनिया में, मुसीबतों का कल होगा
आने वाला कल दुनिया में, मुसीबतों का कल होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
डॉ० रामबली मिश्र हरिहरपुरी का
डॉ० रामबली मिश्र हरिहरपुरी का
Rambali Mishra
अपने शून्य पटल से
अपने शून्य पटल से
Rashmi Sanjay
💐प्रेम कौतुक-158💐
💐प्रेम कौतुक-158💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
माँ (ममता की अनुवाद रही)
माँ (ममता की अनुवाद रही)
Vijay kumar Pandey
साहस
साहस
Shyam Sundar Subramanian
तांका
तांका
Ajay Chakwate *अजेय*
परिस्थितियां
परिस्थितियां
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
बाल दिवस
बाल दिवस
Saraswati Bajpai
Loading...