Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 10, 2021 · 1 min read

‘नारी अबला नहीं’

‘नारी अबला नहीं’

अनंत अश्रु-बूँदों से लेकर
नेह का पूरा आसमान..
सहेजे रहती है ..अपने आँचल में!
ज़िम्मेदारियों और आलोचनाओं का
जबरन पहनाया गया लिबास,
सहेजे रहती है संतुष्टि के साथ!
जन्म लेती रहती है नव-रूप धरकर,
नारी..
हारती नहीं परिश्रम से..
तितर-बितर हुए रिश्तों को,
अपाहिज हुई भावनाओं को,
बाँध लेती है ..परिवार को..
अदम्य साहस के साथ
संभाले रहती है देश…कुटुंब..
जीती है स्वाभिमान से,
हर युग में उपजती रही है..
नारी! अबला नहीं,
नारी है…शक्ति स्वरुपा..
नाम है जागृति का,
सत्यता का, ज्योति का..
अज्ञानता से मुक्ति का!

स्वलिखित
रश्मि लहर,
लखनऊ

138 Views
You may also like:
बोलती आँखे...
मनोज कर्ण
वक़्त तबदीलियां भी
Dr fauzia Naseem shad
एहसासात
Shyam Sundar Subramanian
कुंडलियां छंद (7)आया मौसम
Pakhi Jain
अपनी ख़्वाहिशों को
Dr fauzia Naseem shad
बहुजन की भारत माता
Shekhar Chandra Mitra
वेवफा प्यार
Anamika Singh
“श्री चरणों में तेरे नमन, हे पिता स्वीकार हो”
Kumar Akhilesh
स्वार्थ
Vikas Sharma'Shivaaya'
ईश्वर की अदालत
Anamika Singh
भोजपुरी के संवैधानिक दर्जा बदे सरकार से अपील
आकाश महेशपुरी
तजर्रुद (विरक्ति)
Shyam Sundar Subramanian
रहे इहाँ जब छोटकी रेल
आकाश महेशपुरी
poem
पंकज ललितपुर
परदेश
DESH RAJ
'भारत की प्रथम नागरिक'
Godambari Negi
✍️ये अज़ीब इश्क़ है✍️
"अशांत" शेखर
"DIDN'T LEARN ANYTHING IF WE DON'T PRACTICE IT "
DrLakshman Jha Parimal
दर्द से खुद को
Dr fauzia Naseem shad
टूटने न पाये रिश्तों की डोर
Dr fauzia Naseem shad
तेरी याद में
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ममता की फुलवारी माँ हमारी
Dr.Alpa Amin
गुनहगार बन गए है।
Taj Mohammad
पढ़ाई - लिखाई
AMRESH KUMAR VERMA
तेरा साथ मुझको गवारा नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
पिता का दर्द
Nitu Sah
✍️किताबें और इंसान✍️
"अशांत" शेखर
दिल भी
Dr fauzia Naseem shad
If We Are Out Of Any Connecting Language.
Manisha Manjari
🍀प्रेम की राह पर-55🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...