Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-70💐

नाम पर मत जाइए,शनासाई^ करिये,
दिल को परखिए,फिर एतिबार करिये।

^शनासाई-परिचय,जान पहचान।
©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
39 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
मुक्ति का दे दो दान
मुक्ति का दे दो दान
Samar babu
बहकी बहकी बातें करना
बहकी बहकी बातें करना
Surinder blackpen
💐प्रेम कौतुक-236💐
💐प्रेम कौतुक-236💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
The bestest education one can deliver is  humanity and achie
The bestest education one can deliver is humanity and achie
Nupur Pathak
चुनाव
चुनाव
Dr. Rajiv
कुंडलिनी छंद
कुंडलिनी छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
कितने घर ख़ाक हो गये, तुमने
कितने घर ख़ाक हो गये, तुमने
Anis Shah
सबके हाथ में तराजू है ।
सबके हाथ में तराजू है ।
Ashwini sharma
★आईने में वो शख्स★
★आईने में वो शख्स★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
निराला जी पर दोहा
निराला जी पर दोहा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जो भी मिलता है दिलजार करता है
जो भी मिलता है दिलजार करता है
कवि दीपक बवेजा
व्यर्थ विवाद की
व्यर्थ विवाद की
*Author प्रणय प्रभात*
दोस्ती देने लगे जब भी फ़रेब..
दोस्ती देने लगे जब भी फ़रेब..
अश्क चिरैयाकोटी
ये आँखों से बहते अश्क़
ये आँखों से बहते अश्क़
'अशांत' शेखर
प्रेम में डूब जाने वाले,
प्रेम में डूब जाने वाले,
Buddha Prakash
मुक्तक
मुक्तक
Dr. Girish Chandra Agarwal
बालकनी में चार कबूतर बहुत प्यार से रहते थे
बालकनी में चार कबूतर बहुत प्यार से रहते थे
Dr Archana Gupta
हार्पिक से धुला हुआ कंबोड
हार्पिक से धुला हुआ कंबोड
नन्दलाल सिंह 'कांतिपति'
बातें की बहुत की तुझसे,
बातें की बहुत की तुझसे,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
BLACK DAY (PULWAMA ATTACK)
BLACK DAY (PULWAMA ATTACK)
Jyoti Khari
एक प्रयास अपने लिए भी
एक प्रयास अपने लिए भी
Dr fauzia Naseem shad
"दौर"
Dr. Kishan tandon kranti
चक्षु द्वय काजर कोठरी , मोती अधरन बीच ।
चक्षु द्वय काजर कोठरी , मोती अधरन बीच ।
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
ना रहा यकीन तुझपे
ना रहा यकीन तुझपे
gurudeenverma198
जलाने दो चराग हमे अंधेरे से अब डर लगता है
जलाने दो चराग हमे अंधेरे से अब डर लगता है
Vishal babu (vishu)
*राजा गए रानी गई (हिंदी गजल/गीतिका )*
*राजा गए रानी गई (हिंदी गजल/गीतिका )*
Ravi Prakash
It is not necessary to be beautiful for beauty,
It is not necessary to be beautiful for beauty,
Sakshi Tripathi
*नाम है इनका, राजीव तरारा*
*नाम है इनका, राजीव तरारा*
Dushyant Kumar
शायर अपनी महबूबा से
शायर अपनी महबूबा से
Shekhar Chandra Mitra
कोई हुनर खुद में देखो,
कोई हुनर खुद में देखो,
Satish Srijan
Loading...