Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

नहीं चाहता

मुस्कुराहट मेरे लब को छू लेगी अब
पर ये ज़ालिम जमाना नहीं चाहता

कौन है जग में जो कभी तन्हा न हुआ
कौन है जो मुस्कुराना नहीं चाहता

कोरी झूठी हँसी हो मुबारक तुम्हे
मैं ऐसे हँसना- हँसाना नहीं चाहता

दर- बदर फिर रहा मुश्किल से दौर में
मैं अब मुक़म्मल ठिकाना नहीं चाहता

घाव अब भी मेरे नहीं हैं भरे
पर मैं इनको दिखाना नहीं चाहता

ख्वाब सो जाएँ मेरे चाहते हैं सभी
पर मैं हरगिज सुलाना नहीं चाहता

मैं चाहता हूँ के वो भूल जाए मुझे
मैं उसे याद आना नहीं चाहता
– सिद्धार्थ गोरखपुरी

110 Views
You may also like:
पापा आप बहुत याद आते हो।
Taj Mohammad
अर्धनारीश्वर की अवधारणा...?
मनोज कर्ण
✍️सलीक़ा✍️
'अशांत' शेखर
'धरती माँ'
Godambari Negi
पहली मुहब्बत थी वो
अभिनव मिश्र अदम्य
ज़िंदगी से सवाल
Dr fauzia Naseem shad
मोहब्बत ना कर .......
J_Kay Chhonkar
हर रोज़ ही हम।
Taj Mohammad
मातृदिवस
Dr Archana Gupta
#किताबों वाली टेबल
Seema 'Tu haina'
अभी दुआ में हूं बद्दुआ ना दो।
Taj Mohammad
भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दुनिया की रीति
AMRESH KUMAR VERMA
✍️स्त्री : दोन बाजु✍️
'अशांत' शेखर
पत्र की स्मृति में
Rashmi Sanjay
तुम पतझड़ सावन पिया,
लक्ष्मी सिंह
मुस्कुराना सीख लो
Dr.sima
ऋतुराज का हुआ शुभारंभ
Vishnu Prasad 'panchotiya'
सुरत और सिरत
Anamika Singh
*मतलब डील है (गीतिका)*
Ravi Prakash
विश्व पृथ्वी दिवस
Dr Archana Gupta
महादेवी वर्मा जी की वेदना
Ram Krishan Rastogi
✍️हमसे लिपट गये✍️
'अशांत' शेखर
मन चाहे कुछ कहना....!
Kanchan Khanna
जूते जूती की महिमा (हास्य व्यंग)
Ram Krishan Rastogi
अल्फाज़ ए ताज भाग-2
Taj Mohammad
वो दिन भी बहुत खूबसूरत थे
Krishan Singh
✍️बोन्साई✍️
'अशांत' शेखर
# महकता बदन #
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बेटी को लेकर सोच बदल रहा है
Anamika Singh
Loading...