Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 May 2022 · 1 min read

नयी बहुरिया घर आयी*

नई बहू से कर रहा,चित्त उल्लसित प्रीति ।
ब्याह लिया बेटा-वधू ,संस्कृति की शुभ रीति ।।1

प्रीति भोज अनुपम हुआ ,छक के खाए भोज ।
धवल चंद्रिका-सी वधू , उसके नयन सरोज ।।2

सुख की झिलमिल चाँदनी ,तनी दिखी थी रात ।
मधुर मनोहर थी सुबह ,खत्म न होती बात ।।3

विदा हुए सारे अतिथि ,सूना आँगन आज ।
खोज रही थी माँ वधू ,जिस पर उसको नाज ।।4

माँ चौखट को देखती ,वधू बुलाती पास ।
बैठी घर में खिन्न माँ ,टूट गई जब आस ।।5

नये जमाने की वधू , इतनी हुई समर्थ ।
मान किसी का वह न कर , समझे सब कुछ व्यर्थ।।6

बैकवर्ड सबको कहे ,सबसे ही कतराय ।
उल्टे-सीधी ड्रेस में ,बाहर-भीतर जाय ।।7

तरस गई माँ ठूँठ-सी, सुनने को दो बोल ।
वधू कभी समझी नहीं ,नव कुटुंब का मोल ।।8

धीरे-धीरे झर गये ,खुशियों के सब पात ।
मुस्कानें तो खो गईं ,घिरी अँधेरी रात ।।9

डा. सुनीता सिंह ‘सुधा’
स्वरचित सृजन
वाराणसी
30/5/2022

Language: Hindi
Tag: दोहा
2 Likes · 2 Comments · 267 Views
You may also like:
*धन व्यर्थ जो छोड़ के घर-आँगन(घनाक्षरी)*
Ravi Prakash
“ हमारा फेसबूक और हमरा टाइमलाइन ”
DrLakshman Jha Parimal
परिस्थितियां
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
लोरी
Shekhar Chandra Mitra
गणेश चतुर्थी
आचार्य श्रीराम पाण्डेय
कविनामी दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️मैं कुदरत का बीज हूँ✍️
'अशांत' शेखर
नशे में मुब्तिला है।
Taj Mohammad
मेरी चाह....।।
Rakesh Bahanwal
एक दिया जलाये
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
🌺🌸प्रेम की राह पर-65🌸🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
😊 आज की बात :-
*Author प्रणय प्रभात*
विश्व मानसिक दिवस
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
हायकू
Ajay Chakwate *अजेय*
मैथिली भाषा/साहित्यमे समस्या आ समाधान
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
बाल कहानी- टीना और तोता
SHAMA PARVEEN
दो पल का जिंदगानी...
AMRESH KUMAR VERMA
जिन्दगी से क्या मिला
Anamika Singh
एक पत्र पुराने मित्रों के नाम
Ram Krishan Rastogi
चतुर्मास अध्यात्म
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Writing Challenge- दरवाजा (Door)
Sahityapedia
मिठाई मेहमानों को मुबारक।
Buddha Prakash
पतंग
सूर्यकांत द्विवेदी
अनसुनी~प्रेम कहानी
bhandari lokesh
तेरे दुःख दर्द कितने सुर्ख है l
अरविन्द व्यास
मेरी बेटी मेरी सहेली
लक्ष्मी सिंह
यह तो हालात है
Dr fauzia Naseem shad
चाँद और जुगनू
Abhishek prabal
आसमाँ के परिंदे
VINOD KUMAR CHAUHAN
मुस्ताकिल
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...