Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-515💐

नज़र से तय किया है इश्क़,ग़र दिल गवाही दे,
उम्मीद से बेहतर निकलेगा,ग़र दिल गवाही दे,
यूँ तो सब आफ़रीन हैं, इस फ़क़त दुनियाँ में,
दिल से जुड़िए दिल से,जब दिल गवाही दे।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
76 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Loading...