Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#11 Trending Author
Apr 22, 2022 · 1 min read

धरती माँ का करो सदा जतन……

ये पावन धरा जिसने हमें है बनाया
जिसके अंश से बनी हैं ये काया
जब आये जहाँमें… हैं उसने हमें उठाया
हैं माँ की गोदी जैसे..वैसे जिसने हमें सँवारा
एक माँ ने… एक माँ के… सहारे हमें दुनिया दिखाई
किया सारा इंतझाम हमारे जीवन के लिए
कितने उपकार हैं किये कितनी सौगात दिए हैं
जिसका हिसाब करना न आये हमें….!!
माँ धरा हैं… वसुंधरा हर उपवन को ऐसे सजाया
महक से भी हैं महका सुनहरा जीवन हमारा….!
अपने भीतर गहराई में दर्द को हैं छुपाया
फिर…. भी देखो जिंदगी हमारी सूरज के
सोनेरी किरणों सी चमकाए…!!
धरती माँ का करो सदा जतन…………………
न करो उसे गंदा……… रखो सदा स्वच्छ…………!!
न छीनो उसकी सौम्य सुंदरता को,
पूरा जीवन भी कम पड़ जायेंगा…..
ऋण फिर…. भी न उतार पाएंगे…!!!!!!!

1 Like · 81 Views
You may also like:
धागा भाव-स्वरूप, प्रीति शुभ रक्षाबंधन
Pt. Brajesh Kumar Nayak
ग़ज़ल
Nityanand Vajpayee
वह माँ नही हो सकती
Anamika Singh
# स्त्रियां ...
Chinta netam " मन "
नफ़्स
निकेश कुमार ठाकुर
चांदनी में बैठते हैं।
Taj Mohammad
श्रीराम
सुरेखा कादियान 'सृजना'
हम गीत ख़ुशी के गाएंगे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐प्रेम की राह पर-29💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐💐💐न पूछो हाल मेरा तुम,मेरा दिल ही दुखाओगे💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
THANKS
Vikas Sharma'Shivaaya'
दीये की बाती
सूर्यकांत द्विवेदी
राम घोष गूंजें नभ में
शेख़ जाफ़र खान
नुमाइश बना दी तुने I
Dr.sima
आत्महत्या क्यों ?
Anamika Singh
छलकाओं न नैना
Dr. Alpa H. Amin
याद मेरी तुम्हे आती तो होगी
Ram Krishan Rastogi
पापा हमारे..
Dr. Alpa H. Amin
ज़रा सामने बैठो।
Taj Mohammad
💐प्रेम की राह पर-27💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
भावों उर्मियाँ ( कुंडलिया संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मेरा बचपन
Ankita Patel
✍️"सूरज"और "पिता"✍️
"अशांत" शेखर
चलो एक पत्थर हम भी उछालें..!
मनोज कर्ण
पिता
Neha Sharma
कितनी सुंदरता पहाड़ो में हैं भरी.....
Dr. Alpa H. Amin
मन को मत हारने दो
जगदीश लववंशी
फिजूल।
Taj Mohammad
सावन ही जाने
शेख़ जाफ़र खान
हम हर गम छुपा लेते हैं।
Taj Mohammad
Loading...