Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 6, 2022 · 1 min read

द्रौपदी मुर्मू’

‘खुद की हिफाजत न कर सकने वाली’ कहने वाले,
‘सारे घर के काम का बोझ ढोने वाली’ कहने वाले,
आज न जाने किस पल्लू में छुप कर बैठे हैं,
राष्ट्रपति ‘द्रोपदी मुर्मू’ के हवाले देश सोंप बैठे हैं ।।

सीमा टेलर, छिम़पीयान‌‌‌ लम्बोर, चुरू, राजस्थान

2 Likes · 34 Views
You may also like:
मां बाप की दुआओं का असर
Ram Krishan Rastogi
सच ही तो है हर आंसू में एक कहानी है
VINOD KUMAR CHAUHAN
नारियल
Buddha Prakash
दर्द और विश्वास
Anamika Singh
When I missed you.
Taj Mohammad
तुम्हे याद किये बिना सो जाऊ
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
ठोकरों ने गिराया ऐसा, कि चलना सीखा दिया।
Manisha Manjari
वर्तमान से वक्त बचा लो:चतुर्थ भाग
AJAY AMITABH SUMAN
गिरवी वर्तमान
Saraswati Bajpai
लगदी तू मुझकों कमाल sodiye
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
ये खुशी
Anamika Singh
जब हम छोटे बच्चे थे ।
Saraswati Bajpai
अत्याचार
AMRESH KUMAR VERMA
मुर्झाए हुए फूल तरछोडे जाते हैं....
Dr.Alpa Amin
# दोस्त .....
Chinta netam " मन "
स्याह रात ने पंख फैलाए, घनघोर अँधेरा काफी है।
Manisha Manjari
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
गीत- अमृत महोत्सव आजादी का...
डॉ.सीमा अग्रवाल
मुबारक हो।
Taj Mohammad
दुआ
Alok Saxena
.✍️स्काई इज लिमिटच्या संकल्पना✍️
'अशांत' शेखर
अपना होता है तो
Dr fauzia Naseem shad
पुन: विभूषित हो धरती माँ ।
Saraswati Bajpai
मेरे गांव में होने लगा है शामिल थोड़ा शहर:भाग:2
AJAY AMITABH SUMAN
धोखा
Anamika Singh
मिल जाने की तमन्ना लिए हसरत हैं आरजू
Dr.sima
कुंडलियां छंद (7)आया मौसम
Pakhi Jain
✍️नशा और शौक✍️
'अशांत' शेखर
✍️स्त्री : दोन बाजु✍️
'अशांत' शेखर
Loading...