Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Sep 2016 · 1 min read

दो चार करेंगे

हम आपसे आँखे फिर दो चार करेंगे
हर रोज नये रूप में स्वीकार करेंगे

फेरे हमने सात लगाये संग तेरे
तेरे पर हम तो फिर से ही अधिकार करेंगे

गर बात हमारी सब मानो यदि तुम तो
तब हम सबके साथ ही परिवार करेंगे

तीखे बन जाओ जब मेरे ही लिए तो
जीना हम तेरा तब दुश्वार करेंगें

जब प्यार भरी बात करोगे हमसे तो
जीवन तुम पर हम फिर आभार करेंगे

जब छोड़ के हमको तुम जाओगे कहीँ तो
वापस तब आने पर पुचकार करेंगे

जीवन भर हम साथ निभाये अब तेरा
सच्ची कहते है कि न हथियार करेंगे

बाधा यदि आये न निभा साथ मैं पाऊँ
मैं छोड़ू न तुमको तब गद्दार करेंगे

जब नींद हमें रात न आयें बिन तेरे
तब प्यार करो तुम यह इजहार करेंगे

हमको बरसों बाद मिला है प्रियतम जो
जी भर हम उसका अब दीदार करेंगे

मीठी मधु शाला से भरी कैसे तुम हो
अब हम मधु भावों का व्यापार करेंगे

डॉ मधु त्रिवेदी

69 Likes · 410 Views
You may also like:
झूठी वाहवाही
Shekhar Chandra Mitra
‘कन्याभ्रूण’ आखिर ये हत्याएँ क्यों ?
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
'वर्षा ऋतु'
Godambari Negi
^^मृत्यु: अवश्यम्भावी^^
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
एक दीये की दीवाली
Ranjeet Kumar
कुछ शेर रफी के नाम ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
कभी मिलोगी तब सुनाऊँगा ---- ✍️ मुन्ना मासूम
मुन्ना मासूम
जबकि तुम अक्सर
gurudeenverma198
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
नवगीत: ऐसा दीप कहाँ से लाऊँ
Sushila Joshi
ख़ुद ही हालात समझने की नज़र देता है,
Aditya Shivpuri
! ! बेटी की विदाई ! !
Surya Barman
अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
शमशीर से क्या कटेगा जो ये जुबां काटती है।
Taj Mohammad
नैन अपने
Dr fauzia Naseem shad
हाथ माखन होठ बंशी से सजाया आपने।
लक्ष्मी सिंह
तरसती रहोगी एक झलक पाने को
N.ksahu0007@writer
अब वो किसी और से इश्क़ लड़ाती हैं
Writer_ermkumar
मंजूषा बरवै छंदों की
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
*धन व्यर्थ जो छोड़ के घर-आँगन(घनाक्षरी)*
Ravi Prakash
रानी गाइदिन्ल्यू भारत की नागा आध्यात्मिक एवं राजनीतिक नेत्री
Author Dr. Neeru Mohan
मुहब्बत भी क्या है
shabina. Naaz
असतो मा सद्गमय
Kanchan Khanna
✍️तो ऐसा नहीं होता✍️
'अशांत' शेखर
दहेज़
आकाश महेशपुरी
ज़ाफ़रानी
Anoop 'Samar'
दिया और हवा
Anamika Singh
মিথিলা অক্ষর
DrLakshman Jha Parimal
क्या प्रात है !
Saraswati Bajpai
"दूब"
Dr Meenu Poonia
Loading...