Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

दोहे

आज के दोहे

जीना मरना सब रहा, केवल कुदरत हाथ।
जीते जी संबंध हैं, जीते जी का साथ।।

कितने करवा चौथ कर, आयु सुनिश्चित मान।
घटे-बढ़े बिल्कुल नहीं, कुदरत का वरदान।।

आयु लंबी होए नहीं, रख कितने उपवास।
तर्क करो तो ज्ञात हो, बात आम या खास।।

उपयोगी उपवास है, रखता सेहत ठीक।
जकड़ अंधविश्वास की, अशुभ बताए छींक।।

बिल्ली रास्ता काट दे, कहता बिगड़े काज।
बिल्ली अपने राह थी, बेतुक तेरा साज।।

वार नहीं अच्छे बुरे, सब दिन एक समान।
सही सोच से करे तो, हर कारज आसान।।

सिल्ला विनोद बच गया, कर वैज्ञानिक सोच।
पाखंड कहां छोड़ता, लेता सब को नौच।।

-विनोद सिल्ला

1 Like · 217 Views
You may also like:
ठाकरे को ठोकर
Rj Anand Prajapati
जाने कहां वो दिन गए फसलें बहार के
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
सम्भल कर चलना ऐ जिन्दगी
Anamika Singh
मेरे वतन मेरे चमन ,तुम पर हम कुर्बान है
gurudeenverma198
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD KUMAR CHAUHAN
हमारे बाबू जी (पिता जी)
Ramesh Adheer
खुद को कभी न बदले
Dr fauzia Naseem shad
दुनियां फना हो जानी है।
Taj Mohammad
खड़े सभी इक साथ
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
स्वेद का, हर कण बताता, है जगत ,आधार तुम से।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
सच बोलो
shabina. Naaz
✍️छांव और धुप✍️
'अशांत' शेखर
✍️जमाना नहीं रहा...✍️
'अशांत' शेखर
बेकार ही रंग लिए।
Taj Mohammad
चाह इंसानों की
AMRESH KUMAR VERMA
भूले बिसरे गीत
RAFI ARUN GAUTAM
इश्क़
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
" पवित्र रिश्ता "
Dr Meenu Poonia
सर रख कर रोए।
Taj Mohammad
ज़िंदगी का सवाल होते हैं ।
Dr fauzia Naseem shad
✍️शाम की तन्हाई✍️
'अशांत' शेखर
हर दिन इसी तरह
gurudeenverma198
दूल्हे अब बिकते हैं (एक व्यंग्य)
Ram Krishan Rastogi
जावेद कक्षा छः का छात्र कला के बल पर कई...
Shankar J aanjna
इश्क।
Taj Mohammad
श्री अग्रसेन भागवत ः पुस्तक समीक्षा
Ravi Prakash
बंद हैं भारत में विद्यालय.
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मंजिल दूर है
Varun Singh Gautam
ढूढ़ा जाऊंगा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
** तेरा बेमिसाल हुस्न **
DESH RAJ
Loading...