Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Oct 1, 2016 · 1 min read

दोहा-मुक्तक

दोहा मुक्तक ©

आरम्भ हुआ आज से, गरबा नाच धमाल
गाओ नाचो साथ सब, है डांडिया कमाल
मौज मजा का पर्व है, मधुर है लोक गीत
हँसी ख़ुशी मस्ती करो, दिल में हो न मलाल |
२.
शारदीय नवरात्र है, पूजे सिंह सवार
अनुग्रह दुर्गा मातु का, बाँटो सबको प्यार
शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा, तिथि से प्रारम्भ है
नौ दिन का शुभ योग है, माँ कर दीदार |

© कालीपद ‘प्रसाद’

497 Views
You may also like:
मालूम था।
Taj Mohammad
'परिवर्तन'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
अंदाज़ ही निराला है।
Taj Mohammad
दिनांक 10 जून 2019 से 19 जून 2019 तक अग्रवाल...
Ravi Prakash
मेरे पिता है प्यारे पिता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
कभी मिट्टी पर लिखा था तेरा नाम
Krishan Singh
# हमको नेता अब नवल मिले .....
Chinta netam " मन "
💐सुरक्षा चक्र💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
He is " Lord " of every things
Ram Ishwar Bharati
✍️आज फिर जेब खाली है✍️
"अशांत" शेखर
रिश्ते
Saraswati Bajpai
आज तिलिस्म टूट गया....
Saraswati Bajpai
गीत - याद तुम्हारी
Mahendra Narayan
फुर्तीला घोड़ा
Buddha Prakash
ट्रेजरी का पैसा
Mahendra Rai
सच्चा प्यार
Anamika Singh
"अंतरात्मा"
Dr. Alpa H. Amin
सबको दुनियां और मंजिल से मिलाता है पिता।
सत्य कुमार प्रेमी
नादानियाँ
Anamika Singh
दीया तले अंधेरा
Vikas Sharma'Shivaaya'
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
Ram Krishan Rastogi
गुरूर का अंत
AMRESH KUMAR VERMA
पापा मेरे पापा ॥
सुनीता महेन्द्रू
याद पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ज़िंदगी पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
आग
Anamika Singh
यही तो मेरा वहम है
Krishan Singh
*अग्रसेन भागवत के महान गायक आचार्य विष्णु दास शास्त्री :...
Ravi Prakash
ग़र वो है बेवफ़ा बेवफ़ा ही सही
Mahesh Ojha
Loading...