Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 15, 2021 · 1 min read

दोस्ती

अच्छे लगते हैँ मुझे वे लोग,
जो मेरा चेहरा पढ़ने की कोशिस किया करते हैँ //

उलझें हुए हैँ कुछ सवाल मेरे भीतर,
उसे जानने की कोशिस किया करते हैँ //

कभी मेरी मुस्कुराहट को देखते हैँ,
तो कभी मेरी चिंतनीय अवस्था को देखते हैँ //

शायद वो कुछ खास दोस्त ही होते हैँ,
जो मेरे अंदर के रहस्ययो को सुलझाने की कोसिस करते हैँ //

1 Like · 188 Views
You may also like:
✍️बेवफ़ा मोहब्बत✍️
'अशांत' शेखर
*खाट बिछाई (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जीने का हुनर आता
Anamika Singh
रामकथा की अविरल धारा श्री राधे श्याम द्विवेदी रामायणी जी...
Ravi Prakash
धन-दौलत
AMRESH KUMAR VERMA
कारवाँ:श्री दयानंद गुप्त समग्र
Ravi Prakash
समुंदर बेच देता है
आकाश महेशपुरी
कशमकश
Anamika Singh
तुम्हारे शहर में कुछ दिन ठहर के देखूंगा।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
ज़मीं पे रहे या फलक पे उड़े हम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दरारों से।
Taj Mohammad
ज़िक्र तेरा
Dr fauzia Naseem shad
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
गाँधी जी की लाठी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हमारी नींदें
Dr fauzia Naseem shad
सृजन कर्ता है पिता।
Taj Mohammad
खुश रहना
dks.lhp
पिता की छांव
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
अपनी ख़्वाहिशों को
Dr fauzia Naseem shad
👌स्वयंभू सर्वशक्तिमान👌
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तुमको खुशी मिलती है।
Taj Mohammad
गौरव है मेरा, बेटी मेरी
gurudeenverma198
तुम गर्म चाय तंदूरी हो
सन्तोष कुमार विश्वकर्मा 'सूर्य'
अपने और जख्म
Anamika Singh
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
गुलामी के पदचिन्ह
मनोज कर्ण
✍️मानो तो ये भी सही✍️
'अशांत' शेखर
दिन बड़ा बनाने में
डी. के. निवातिया
एक पत्र पुराने मित्रों के नाम
Ram Krishan Rastogi
कहानी *"ममता"* पार्ट-5 लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत।
radhakishan Mundhra
Loading...