Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jul 2022 · 1 min read

” दृष्टिकोण “

डॉ लक्ष्मण झा” परिमल ”
=======
हम अपने
विचारों को रखते हैं !
अपनी कल्पनाओं के तारों
को बुनते हैं !!
सत्य को दरसाके
धरा पर उतारते हैं !
सत्य कटु हो सकता है
सत्यम शिवम् सुन्दरम
का मंत्र हम दुहराते हैं !!
पर हमारी मंशा
साफ और स्पष्ट है
सच के दर्पण को दिखाते हैं !!
जो कार्य को धरा
पर ला सकें
जनहित की चिंता रख सकें
उसकी मुझे तलाश है
बस …यही मेरी प्यास है !!
=================
डॉ लक्ष्मण झा” परिमल ”
साउंड हेल्थ क्लिनिक
डॉक्टर’स लेन
दुमका
झारखण्ड

1 Like · 1 Comment · 113 Views
You may also like:
साधु न भूखा जाय
श्री रमण 'श्रीपद्'
अरदास
Buddha Prakash
हवा का हुक़्म / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
✍️प्यारी बिटिया ✍️
Vaishnavi Gupta
गीत- जान तिरंगा है
आकाश महेशपुरी
"पिता का जीवन"
पंकज कुमार कर्ण
बरसाती कुण्डलिया नवमी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मर्यादा का चीर / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
टूटा हुआ दिल
Anamika Singh
औरों को देखने की ज़रूरत
Dr fauzia Naseem shad
* सत्य,"मीठा या कड़वा" *
मनोज कर्ण
आप से ज़िंदगी
Dr fauzia Naseem shad
इश्क करते रहिए
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पिता का दर्द
Nitu Sah
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
माँ की भोर / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
क्यों हो गए हम बड़े
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
संविदा की नौकरी का दर्द
आकाश महेशपुरी
वर्षा ऋतु में प्रेमिका की वेदना
Ram Krishan Rastogi
याद पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
लकड़ी में लड़की / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
पापा क्यूँ कर दिया पराया??
Sweety Singhal
हे पिता,करूँ मैं तेरा वंदन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कुछ नहीं इंसान को
Dr fauzia Naseem shad
विश्व फादर्स डे पर शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️रास्ता मंज़िल का✍️
Vaishnavi Gupta
आपकी तारीफ
Dr fauzia Naseem shad
"हैप्पी बर्थडे हिन्दी"
पंकज कुमार कर्ण
न कोई जगत से कलाकार जाता
आकाश महेशपुरी
पिता जी
Rakesh Pathak Kathara
Loading...