Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

दूजा नहीं रहता

घिरा हूँ गम गुसारों से कभी तन्हा नहीं रहता
गमों के दौर में कोई मगर अपना नहीं रहता
अगर हनुमान होते चीरकर दिल भी दिखा देते
यकी हो या न हो, दिल में को’ई दूजा नहीं रहता

2 Likes · 184 Views
You may also like:
अशांत मन
Mahender Singh Hans
वह माँ नही हो सकती
Anamika Singh
वो बरगद का पेड़
Shiwanshu Upadhyay
ख्वाब रंगीला कोई बुना ही नहीं ।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
Renuka Chauhan
नई सुबह रोज
Prabhudayal Raniwal
Tell the Birds.
Taj Mohammad
एक गलती ( लघु कथा)
Ravi Prakash
कभी कभी।
Taj Mohammad
✍️गर्व करो अपना यही हिंदुस्थान है✍️
"अशांत" शेखर
**दोस्ती हैं अजूबा**
Dr. Alpa H. Amin
✍️✍️व्यवस्था✍️✍️
"अशांत" शेखर
** यकीन **
Dr. Alpa H. Amin
ना मायूस हो खुदा से।
Taj Mohammad
✍️अजनबी की तरह...!✍️
"अशांत" शेखर
अपना लो मुझे अभी...
Dr. Alpa H. Amin
दादी की कहानी
दुष्यन्त 'बाबा'
जोशवान मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
मंगलसूत्र
संदीप सागर (चिराग)
जब तुमने सहर्ष स्वीकारा है!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
परिस्थितियों के आगे न झुकना।
Anamika Singh
मैं तुम पर क्या छन्द लिखूँ?
रोहिणी नन्दन मिश्र
श्रेय एवं प्रेय मार्ग
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
मै वह हूँ।
Anamika Singh
तात्या टोपे बलिदान दिवस १८ अप्रैल १८५९
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐 निर्गुणी नर निगोड़ा 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चम्पा पुष्प से भ्रमर क्यों दूर रहता है
Subhash Singhai
वो आवाज
Mahendra Rai
विद्या पर दोहे
Dr. Sunita Singh
Loading...