Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#17 Trending Author

दुल्हन पिया घर चली

******** दुल्हन पिया घर चली (गीत)*********
***************************************

लाल जोड़े में सज धज तैयार दुल्हन पिया घर चली,
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।

दुनिया सदियों से ये बात,है सदा कहती ही आई,
बेटी माँ बाप के घर में सदैव होती है पराई,
पिता की पगड़ी की रख लाज दुल्हन पिया घर चली।
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।

मनमोहिनी मनोरम मूरत मन मोहिती हर किसी का,
भोली भाली भावुकता भरी भार्या भरे मन सभी का,
आँखों मे डाल कजरे की धार दुल्हन पिया घर चली।
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।

दूल्हे ने दुल्हन की सिंदूरी रंग से मांग सजाई,
ताली बजा कर नाच गाकर नव दम्पति को दी बधाई,
ढोल नगाड़ों के साथ साथ है दुल्हन पिया घर चली।
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।

मनसीरत महकता महक से आँगन हुआ सूना सूना,
बेटी की शादी में तात सजाया घर का कोना कोना,
देकर पीहर को खुशियाँ हजार दुल्हन पिया घर चली।
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।

लाल जोड़े में सज धज तैयार दुल्हन पिया घर चली।
सूना कर के बाबुल का द्वार दुल्हन पिया घर चली।
****************************************
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (कैथल)

1 Like · 222 Views
You may also like:
उपदेश
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
सबसे बड़ा सवाल मुँहवे ताकत रहे
आकाश महेशपुरी
नया सपना
Kanchan Khanna
अब नही छल सकते हो
Anamika Singh
जिन्दगी रो पड़ी है।
Taj Mohammad
*बुद्ध पूर्णिमा 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
एक था ब्लैक टाइगर रविन्द्र कौशिक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
भ्राजक
DR ARUN KUMAR SHASTRI
उम्मीद
Harshvardhan "आवारा"
भ्रष्टाचार पर कुछ पंक्तियां
Ram Krishan Rastogi
कर्म-पथ से ना डिगे वह आर्य है।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तमन्ना अनूप
Dr.sima
✍️दिशाभूल✍️
"अशांत" शेखर
कौन होता है कवि
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
✍️मौत का जश्न✍️
"अशांत" शेखर
#udhas#alone#aloneboy#brokenheart
Dalveer Singh
✍️मिसाले✍️
"अशांत" शेखर
अपनी कहानी
Dr.Priya Soni Khare
आओ मिलकर वृक्ष लगाएँ
Utsav Kumar Aarya
में हूं हिन्दुस्तान
Irshad Aatif
आज नहीं तो कल होगा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
न झुकेगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
तमन्ना ए कल्ब।
Taj Mohammad
बुरा तो ना मानोगी।
Taj Mohammad
आओ अब यशोदा के नन्द
शेख़ जाफ़र खान
बंदिशे तमाम मेरे हक़ में ...........
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
खुशियाँ ही अपनी हैं
विजय कुमार अग्रवाल
जब जब ही मैंने समझा आसान जिंदगी को।
सत्य कुमार प्रेमी
सुरज से सीखों
Anamika Singh
✍️तमाशा✍️
"अशांत" शेखर
Loading...