Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#1 Trending Author
Apr 28, 2022 · 1 min read

दिल मुझसे लगाकर,औरों से लगाया न करो

दिल मुझसे लगाकर,औरों से लगाया न करो,
इस तरह से जख्मों पर नमक लगाया न करो।

खुद मुल्जिम हो,इल्जाम मुझ पर लगाते हो,
इस तरह से चोरी का इल्जाम लगाया न करो।

गुजर चुकी है सारी हदें,मुझे अब सताने की,
हम तो पहले ही सताए है और न सताया करो।

इंतजार करते करते,थक गई है ये आंखें मेरी,
नींद भरी आंखों को,अब और न जगाया करो।

फैल चुके हर जगह,हमारी मोहब्बत के अफसाने,
कसम खाओ,इनको अब और न फैलाया करो।

रस्तोगी क्या बेखबर है इन सभी अफसानों से,
खबरदार,इन अफसानों को और न बताया करो।।

1 Like · 1 Comment · 202 Views
You may also like:
जगाओ हिम्मत और विश्वास तुम
gurudeenverma198
चला कर तीर नज़रों से
Ram Krishan Rastogi
# हे राम ...
Chinta netam " मन "
फरियाद
Anamika Singh
अपने पापा की मैं हूं।
Taj Mohammad
भूले बिसरे गीत
RAFI ARUN GAUTAM
पिता
Arvind trivedi
$प्रीतम के दोहे
आर.एस. 'प्रीतम'
जला दिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
सुर बिना संगीत सूना.!
Prabhudayal Raniwal
बुद्ध या बुद्धू
Priya Maithil
भगवान सुनता क्यों नहीं ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
नदी की अभिलाषा / (गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
जीवन की सौगात "पापा"
Dr. Alpa H. Amin
बहन का जन्मदिन
Khushboo Khatoon
उम्मीद से भरा
Dr.sima
मुक्तक
AJAY PRASAD
💐प्रेम की राह पर-23💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
मैं भारत हूँ
Dr. Sunita Singh
अफसोस-कर्मण्य
Shyam Pandey
महेंद्र जी (संस्मरण / पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
जिन्दगी खर्च हो रही है।
Taj Mohammad
अब आ भी जाओ पापाजी
संदीप सागर (चिराग)
गढ़वाली चित्रकार मौलाराम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ये दिल टूटा है।
Taj Mohammad
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
धार्मिक आस्था एवं धार्मिक उन्माद !
Shyam Sundar Subramanian
एकाकीपन
Rekha Drolia
एक नज़म [ बेकायदा ]
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...