Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-90💐

दिल की जगह तो तय है मिलने के लिए,
जमीं पर गले लगाओ जिसे अपना नाम दें।

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
46 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
संसद की दिशा
संसद की दिशा
Shekhar Chandra Mitra
कट रही हैं दिन तेरे बिन
कट रही हैं दिन तेरे बिन
Shakil Alam
'फौजी होना आसान नहीं होता
'फौजी होना आसान नहीं होता"
Lohit Tamta
***
*** " नाविक ले पतवार....! " ***
VEDANTA PATEL
#प्यार...
#प्यार...
Sadhnalmp2001
उजियारी ऋतुओं में भरती
उजियारी ऋतुओं में भरती
Rashmi Sanjay
संत गाडगे संदेश 5
संत गाडगे संदेश 5
Vijay kannauje
"अपने हक के लिए"
Dr. Kishan tandon kranti
सीखने की भूख (Hunger of Learn)
सीखने की भूख (Hunger of Learn)
डॉ. अनिल 'अज्ञात'
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
Maroof aalam
अपनी पीर बताते क्यों
अपनी पीर बताते क्यों
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*सबसे मस्त नोट सौ वाला, चिंता से अनजान (गीत)*
*सबसे मस्त नोट सौ वाला, चिंता से अनजान (गीत)*
Ravi Prakash
दर्द
दर्द
Dr. Seema Varma
जब तुम एक बड़े मकसद को लेकर चलते हो तो छोटी छोटी बाधाएं तुम्
जब तुम एक बड़े मकसद को लेकर चलते हो तो छोटी छोटी बाधाएं तुम्
Drjavedkhan
जबकि मैं इस कोशिश में नहीं हूँ
जबकि मैं इस कोशिश में नहीं हूँ
gurudeenverma198
खुदा पर है यकीन।
खुदा पर है यकीन।
Taj Mohammad
*कोई किसी को न तो सुख देने वाला है और न ही दुःख देने वाला है
*कोई किसी को न तो सुख देने वाला है और न ही दुःख देने वाला है
Shashi kala vyas
सभ प्रभु केऽ माया थिक...
सभ प्रभु केऽ माया थिक...
मनोज कर्ण
सुपर हीरो
सुपर हीरो
Sidhartha Mishra
मुझे विवाद में
मुझे विवाद में
*Author प्रणय प्रभात*
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
Manisha Manjari
मैंने  देखा  ख्वाब में  दूर  से  एक  चांद  निकलता  हुआ
मैंने देखा ख्वाब में दूर से एक चांद निकलता हुआ
shabina. Naaz
💐प्रेम कौतुक-382💐
💐प्रेम कौतुक-382💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
महाशिव रात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ
महाशिव रात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ
अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
गेसू सारे आबनूसी,
गेसू सारे आबनूसी,
Satish Srijan
माँ तेरा ना होना
माँ तेरा ना होना
shivam kumar mishra
लगाव
लगाव
Rajni kapoor
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Jitendra Kumar Noor
कश्मीरी पंडित
कश्मीरी पंडित
अभिषेक पाण्डेय ‘अभि ’
कंचन कर दो काया मेरी , हे नटनागर हे गिरधारी
कंचन कर दो काया मेरी , हे नटनागर हे गिरधारी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...