#19 Trending Author
May 12, 2022 · 1 min read

दिल की आरजू…..

दिल की आरजू यूँ न दबाकर रखो
ये वक्त हैं गुजर जाएंगा ।
फिर… पछताने से क्या हांसिल होगा ।।

32 Views
You may also like:
पिता के जैसा......नहीं देखा मैंने दुजा
Dr. Alpa H.
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
गरीब के हालात
Ram Krishan Rastogi
" एक हद के बाद"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:36
AJAY AMITABH SUMAN
न कोई जगत से कलाकार जाता
आकाश महेशपुरी
Waqt
ananya rai parashar
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
प्रश्न! प्रश्न लिए खड़ा है!
Anamika Singh
बुलन्द अशआर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
🥗फीका 💦 त्यौहार💥 (नाट्य रूपांतरण)
पाण्डेय चिदानन्द
खींच तान
Saraswati Bajpai
सद्आत्मा शिवाला
Pt. Brajesh Kumar Nayak
ईश्वर के संकेत
Dr. Alpa H.
सत्य छिपता नहीं...
मनोज कर्ण
कोई मंझधार में पड़ा हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
ये ख्वाब न होते तो क्या होता?
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आज बहुत दिनों बाद
Krishan Singh
सृजन कर्ता है पिता।
Taj Mohammad
¡~¡ कोयल, बुलबुल और पपीहा ¡~¡
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मयंक के जन्मदिन पर बधाई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम ?
Ram Krishan Rastogi
मैं परछाइयों की भी कद्र करता हूं
VINOD KUMAR CHAUHAN
ग्रीष्म ऋतु भाग 1
Vishnu Prasad 'panchotiya'
Motivation ! Motivation ! Motivation !
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
【8】 *"* आई देखो आई रेल *"*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
💐💐प्रेम की राह पर-19💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
महाकवि नीरज के बहाने (संस्मरण)
Kanchan Khanna
फरिश्तों सा कमाल है।
Taj Mohammad
फिजूल।
Taj Mohammad
Loading...