Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 14, 2021 · 1 min read

दया करो भगवान

दया करो भगवान …..।

त्राहि-त्राहि मचा हुआ है,
तेरे इस संसार में ,
कण-कण में तू बसा हुआ है,
नर के इस कंकाल में ।
दया करो………।।१।

सूझ-बूझ नहीं है अब ,
मानव के अहंकार में,
लील रहा है जीवन अपना,
झूठे इस संसार में ।
दया करो………।।२।

दुख में डूबा फिर भी भूखा ,
व्यभिचार के आड़ में ,
तोड़ रहा है बंधन को,
खोज रहा है प्यार को ।
दया करो………।।३।

भूल रहा है वंदन करना,
त्याग रहा है ज्ञान को ,
करता नहीं सम्मान जगत का,
माँग रहा है स्वाभिमान को ।
दया करो………।।४।

आँखों में अब प्रेम नहीं,
मुख से कितने भी नाम लो ,
मानव का कल्याण किया है ,
‘बुद्ध’ करुणा से ज्ञान लो ।
दया करो………।।५।

रचनाकार-
#बुद्ध प्रकाश ,
मौदहा (हमीरपुर) ।

7 Likes · 2 Comments · 445 Views
You may also like:
निद्रा
Vikas Sharma'Shivaaya'
सरकारी नौकर
Dr Meenu Poonia
खूबसूरत तस्वीर
DESH RAJ
मां ने।
Taj Mohammad
परवाना बन गया है।
Taj Mohammad
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
शायरी ने बर्बाद कर दिया |
Dheerendra Panchal
दहेज़
आकाश महेशपुरी
हैप्पी फादर्स डे (लघुकथा)
drpranavds
आईनें में सूरत।
Taj Mohammad
प्रश्न! प्रश्न लिए खड़ा है!
Anamika Singh
** भावप्रतिभाव **
Dr. Alpa H. Amin
गर हमको पता होता।
Taj Mohammad
ना वो हवा ना वो पानी है अब
VINOD KUMAR CHAUHAN
ईश प्रार्थना
Saraswati Bajpai
अगर नशा सिर्फ शराब में
Nitu Sah
भारत की जाति व्यवस्था
AMRESH KUMAR VERMA
जानें कैसा धोखा है।
Taj Mohammad
हिय बसाले सिया राम
शेख़ जाफ़र खान
विवश मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
कराहती धरती (पृथ्वी दिवस पर)
डॉ. शिव लहरी
💐प्रेम की राह पर-34💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सर्वप्रिय श्री अख्तर अली खाँ
Ravi Prakash
गुमनामी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कच्चे आम
Prabhat Ranjan
ममता की फुलवारी माँ हमारी
Dr. Alpa H. Amin
उबारो हे शंकर !
Shailendra Aseem
" राजस्थान दिवस "
jaswant Lakhara
इच्छाओं का घर
Anamika Singh
Loading...