Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 10, 2021 · 1 min read

तुम्हारी याद में ———- मुक्तक

तुम्हारी याद में हमने,
कई रातें गुजारी हैं।
हर इक रात के किस्से,
एक से एक भारी है।।
न थी नींदे नहीं चैना,
नैनो का काम बस बहना।
मिले हो अब कहीं जाके,
साथ रहने की बारी हे।।
***********************************
राजेश व्यास अनुनय

2 Likes · 2 Comments · 151 Views
You may also like:
मोन
श्याम सिंह बिष्ट
भरोसा नहीं रहा।
Anamika Singh
परमात्मनः प्राप्तया: स्थानं हृदयम्
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुस्कुराइये.....
Chandra Prakash Patel
मुझसे पहले क्या किसी ने
gurudeenverma198
योग
DrKavi Nirmal
1971 में आरंभ हुई थी अनूठी त्रैमासिक पत्रिका "शिक्षा और...
Ravi Prakash
रोमांस है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
✍️शर्तो के गुलदस्ते✍️
'अशांत' शेखर
कश्मीर की तस्वीर
DESH RAJ
"सुकून"
Lohit Tamta
*आत्मा का स्वभाव भक्ति है : कुरुक्षेत्र इस्कॉन के अध्यक्ष...
Ravi Prakash
हसरतें थीं...
Dr. Meenakshi Sharma
“ अमिट संदेश ”
DrLakshman Jha Parimal
"हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया" के "अंगद" यानि सिद्धार्थ नहीं रहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️बिच की दिवार✍️
'अशांत' शेखर
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
घातक शत्रु
AMRESH KUMAR VERMA
✍️कुछ राज थे✍️
'अशांत' शेखर
*भारती* *(कुंडलिया)*
Ravi Prakash
हमारे शुभेक्षु पिता
Aditya Prakash
भगवान की तलाश में इंसान
Ram Krishan Rastogi
रिश्तों की अहमियत को न करें नज़र अंदाज़
Dr fauzia Naseem shad
🍀🌺प्रेम की राह पर-51🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
माँ तेरी जैसी कोई नही।
Anamika Singh
उस निरोगी का रोग
gurudeenverma198
उस पथ पर ले चलो।
Buddha Prakash
✍️मुझे तेरी तलाश नहीं✍️
'अशांत' शेखर
जोकर vs कठपुतली ~02
bhandari lokesh
फिक्र ना है किसी में।
Taj Mohammad
Loading...