Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Jul 2016 · 1 min read

तुझे रब मानता हूँ

तेरे हर असलियत जानता हूँ,
फिर भी तुझे रब मानता हूँ.
भूल जाता हूँ खुद को भले ही,
मगर हरपल तेरी चेहरा पहचानता हूँ.

बेशक तुमपे न होगी कोई असर,
फिर भी तुम्हे बेइम्तिहा चाहता हूँ.
तेरे ख्वाबो की चादर बुनता हूँ,
जहाँ तलक मेरे नजर जाता है,
एक तुझी को ढूंढ़ता – फिरता हूँ.
कभी ढूंढ़ना हो तो ढूंढ लेना,
तुम्हारे ही दिल में रहता हूँ.

तेरे राह ख़ुशी बिछाने के लिए,
हर गम सह के हँसता हूँ,
तू खेलती रही है मेरे दिल से,
फिर भी तुझे रब मानता हूँ.
तेरे प्यार में बन गया हूँ आवारा,
मगर तेरे पता नहीं भूलता हूँ.

तू आयेगी लौट कर उम्मीद है,
इसी इन्तिज़ार में अब-तक ज़िंदा हूँ.
कभी तो होगी मिलन सोचकर,
दरख़्त के निचे बैठ तेरे राह तकता हूँ.

तेरे नाम की माला हर पहर जपता हूँ,
तू आयेगी सोचकर सजता संवरता हूँ,
गुजरी हुई पल को याद कर,
कभी हँसता हूँ कभी रोता हूँ,
तेरे हर अतीत लम्हों को,
मै शायरी,ग़ज़ल में ढालता हूँ.

वो तितली कब आयेगी मेरे आँगन,
कही कोने में बैठ खुद से पूछता हूँ.
तन्हाई रात , सावन की बरसात में,
क्या करू तेरे बिन जलता हूँ.

मै कैसा पागल आशिक़ हूँ,
तेरे हर असलियत जानता हूँ,
फिर भी तुझे रब मानता हूँ

Language: Hindi
Tag: कविता
371 Views
You may also like:
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है। [भाग ७]
Anamika Singh
"नजीबुल्लाह: एक महान राष्ट्रपति का दुखदाई अन्त"
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुझे पूजो मत, पढ़ो!
Shekhar Chandra Mitra
✍️कल के सुरज को ✍️
'अशांत' शेखर
"खिलौने"
Dr Meenu Poonia
गौरव है मेरा, बेटी मेरी
gurudeenverma198
हम समझते हैं
Dr fauzia Naseem shad
जी, वो पिता है
सूर्यकांत द्विवेदी
बापू को क्यों मारा..
पंकज कुमार कर्ण
गंतव्यों पर पहुँच कर भी, यात्रा उसकी नहीं थमती है।
Manisha Manjari
चरित्र
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
दूर रहकर तुमसे जिंदगी सजा सी लगती है
Ram Krishan Rastogi
जिंदगी से यूं मलाल कैसा
Seema 'Tu hai na'
जितना आवश्यक है बस उतना ही
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
सुन लो बच्चों
लक्ष्मी सिंह
रुकना हमारा कर्म नहीं
AMRESH KUMAR VERMA
दुर्गावती:अमर्त्य विरांगना
दीपक झा रुद्रा
अपनी जिंदगी
Ashok Sundesha
थिओसॉफी के विद्वान पंडित परशुराम जोशी का व्याख्यान
Ravi Prakash
तमाशाई बन गए हैं।
Taj Mohammad
मेरे गाँव का अश्वमेध!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
माँ
shabina. Naaz
बात बोलेंगे
Dr. Sunita Singh
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
विरह का सिरा
Rashmi Sanjay
🌸✴️कोई सवाल तो छोड़ना मेरे लिए✴️🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
वापस लौट नहीं आना...
डॉ.सीमा अग्रवाल
* जातक या संसार मा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अपनो को।
Pradyumna
'हकीकत'
Godambari Negi
Loading...