Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

तलाश

मानव की तलाश मे हर नगर ढूंढता है
अमरता की प्यास मे गंगाजल ढूंढता हूं
ज्ञान की भूख मे गुरु शरण ढूढता हूं
सफलता की आस मे हर डगर ढूंढता हूं
उडान की चाह मे नव पर ढूंढता हूं
उजाले की तलाश है निशीथ मे दिनकर ढूंढता हूं।

301 Views
You may also like:
पापा क्यूँ कर दिया पराया??
Sweety Singhal
माँ, हर बचपन का भगवान
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अनामिका के विचार
Anamika Singh
फिर भी वो मासूम है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दर्द इनका भी
Dr fauzia Naseem shad
ये शिक्षामित्र है भाई कि इसमें जान थोड़ी है
आकाश महेशपुरी
दिलों से नफ़रतें सारी
Dr fauzia Naseem shad
Kavita Nahi hun mai
Shyam Pandey
जाने कैसा दिन लेकर यह आया है परिवर्तन
आकाश महेशपुरी
पिता
Neha Sharma
श्रीराम
सुरेखा कादियान 'सृजना'
टूटा हुआ दिल
Anamika Singh
अधर मौन थे, मौन मुखर था...
डॉ.सीमा अग्रवाल
कैसे मैं याद करूं
Anamika Singh
सुन मेरे बच्चे !............
sangeeta beniwal
दामन भी अपना
Dr fauzia Naseem shad
दिल में बस जाओ तुम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
✍️क्या सीखा ✍️
Vaishnavi Gupta
पिता
Manisha Manjari
पिता जी
Rakesh Pathak Kathara
तू नज़र में
Dr fauzia Naseem shad
✍️बदल गए है ✍️
Vaishnavi Gupta
जैवविविधता नहीं मिटाओ, बन्धु अब तो होश में आओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वो बरगद का पेड़
Shiwanshu Upadhyay
अपना ख़्याल
Dr fauzia Naseem shad
पितृ महिमा
मनोज कर्ण
मेरा गांव
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पिता - नीम की छाँव सा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
आइना हूं मैं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ब्रेकिंग न्यूज़
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Loading...